ओपीडी पर्ची हेतु करना पड़ता है इंतजार!

 

 

जब चाहे तब गायब हो जाते हैं पर्ची बनाने वाले!

(सादिक खान)

सिवनी (साई)। जिला अस्पताल की व्यवस्थाएं पटरी पर नहीं आ पा रही हैं। एक तरफ व्यवस्था में सुधार किया जाता है तो दूसरी समस्या मुँह बाए खड़ी हो जाती है। जिला अस्पताल में मरीज़ों को पर्ची बनवाने के लिये घण्टों इंतजार करना पड़ता है। इसका कारण यह है कि पर्ची बनाये जाने के काउंटर्स से कर्मचारी जब चाहे तब गायब हो जाते हैं।

बताया जाता है कि जिला अस्पताल में पर्ची बनाये जाने के काम को सफाई एवं सुरक्षा के काम की तरह ही आऊट सोर्स कर दिया गया है। जिस तरह सफाई और सुरक्षा के ठेकेदारों के द्वारा अपनी मनमानी चलायी जा रही है उसी तरह पर्ची बनाये जाने की व्यवस्थाओं पर भी अस्पताल प्रशासन के द्वारा अंकुश नहीं लगाया जा पा रहा है।

जिला अस्पताल के ब्हाय रोगी विभाग में मरीज़ को दिखाये जाने के पूर्व पर्ची बनवाये जाने के लिये मरीज़ों और उनके परिजनों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। नियमानुसार अस्पताल में कंप्यूटर से पर्ची निकालकर दी जाना चाहिये, किन्तु महीने में एक तिहाई दिनों में मरीज़ों को हाथ से लिखी पर्ची ही प्रदाय की जा रही है।

बताया जाता है कि मरीज़ों के लिये पर्ची बनाये जाने के लिये चार काउंटर हैं। इनमें से दो काउंटर अक्सर ही बंद पड़े रहते हैं। इसके चलते पर्ची बनाये जाने के लिये लंबी लाईन लग जाती है। सबसे ज्यादा परेशानी उमर दराज लोगों विशेषकर पेंशनर्स को होती है।

अस्पताल के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि इस मामले में जब भी अस्पताल प्रबंधन को शिकायत की जाती है तो रटा रटाया जवाब मिल जाता है कि प्रशासन के द्वारा इस संबंध में कार्यवाही की जा रही है। गर्मी के मौसम में अस्पताल में मरीज़ों की तादाद में जमकर इज़ाफा हुआ है। अभी बरसात आने पर मरीज़ों की तादाद बढ़ने की उम्मीद भी जतायी जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *