प्रदेश में मानसून लगभग एक सप्ताह बाद आने की उम्मीद

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। मध्य प्रदेश में मानसून लगभग एक सप्ताह बाद 23-24 जून को आने की उम्मीद है। इस बीच, प्रदेश के कुछ हिस्सों में मानसून से पहले की बारिश होने से लोगों को गर्मी से कुछ राहत मिली है।

भोपाल में मौसम विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक एस के डे ने बताया कि मध्य प्रदेश की सीमाओं पर 23-24 जून तक मानसून आने की संभावना है। राज्य के कुछ हिस्सों में मानसूनी बारिश ने लोगों को राहत दी है। उन्होंने कहा कि सामान्य तौर पर मध्य प्रदेश में 10 जून के आसपास मानसून आता है, लेकिन इस बार यह देरी अप्रत्याशित नहीं है तथा एक या दो सप्ताह का यह विचलन सामान्य है।

एस.के. डे ने कहा कि मध्य प्रदेश के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस से नीचे आ गया है और मानसून से पहले की बारिश के कारण अगले सप्ताह तक तापमान में और गिरावट आएगी। इस बीच, मध्य प्रदेश में स्थित विश्व प्रसिद्ध पर्यटन नगरी खजुराहो में सोमवार को प्रदेश का उच्चतम तापमान 43.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

इसके बाद प्रदेश के रीवा शहर में उच्चतम तापमान 42.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। जबकि भोपाल और इंदौर में अधिकतम तापमान 36.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। डे ने कहा कि अगले 24 घंटों के दौरान प्रदेश के कुछ हिस्सों में छिटपुट हल्की बारिश की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि पिछले 24 घंटों में होशंगाबाद को छोड़कर प्रदेश के सभी संभागों में बारिश दर्ज की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *