आवारा श्वान : जारी हुई एडवाईजरी

 

 

 

 

आवारा जानवरों को बाहर करो आबादी से

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। प्रदेश सरकार की ओर से आम जनता की सुरक्षा को देखते हुए एक एडवाइजरी जारी की गई है। इसके अनुसार खूंखार, बीमार और अवारा कुत्तों को कैद करने के लिए सभी नगरीय निकायों में डॉग हाउस बनाए जाएंगे। उनकी देख-रेख करने के लिए पशु चिकित्सकों और नगर निगम का अमला तैनात किया जाएगा

इस संबंध में नगरीय विकास एवं आवास विभाग ने सभी निकायों से कहा है कि वे दो साल के भीतर अपने क्षेत्रों में कुत्तों की गणना, टीकाकरण, बधियाकरण भी करें, जिससे आवारा कुत्तों की जनसंख्या पर नियंत्रण लगाया जा सके। आवारा कुत्तों के काटने की घटनाओं पर मानव अधिकार आयोग ने संज्ञान लेते हुए नगरीय विकास एवं आवास विभाग को तत्काल कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। इसी के चलते नगरीय प्रशासन यह कदम उठाने जा रहा है।

नगरीय प्रशासन ने निकायों से कहा है कि वे अवारा कुत्तों की गणना वैज्ञानिक तरीके से कराएं, हर निकायों में एक काल सेंटर बनाया जाए, जो सिर्फ लोगों को यह बताएं कि आवारा कुत्तों के काटने पर वे क्या उपाय करें और अवारा कुत्तों को पकडऩे की सूचनाएं अमले को दें।

कुत्तों की संख्या के अनुसार निकायों में वाहन तथा उन्हें पकडऩे के लिए कर्मचारियों का एक सेल बनाया जाए। यह सेल अवारा कुत्ते के काटने की सूचना मिलते वाहन लेकर मौके पर पहुंचकर कुत्ते को पकड़ेगा तथा पीड़ित को अस्पताल में भर्ती कराने की व्यवस्था करेगा।

अस्पतालों में 24 घंटे रखें रैबीज के इंजेक्शन : नगरीय प्रशासन ने अस्पतालों को निर्देश दिए हैं वे चौबिसों घंटे रैबीज के इंजेक्शन रखें। निकायों से कहा है कि वे समय-समय पर खूंखार, अवारा, रैबिज और बीमार कुत्तों का समय समय पर सर्वे कराए। जन जागरुकता अभियान चलाकर लोगों को यह भी बताया जाए कि कुत्ते के काटने पर वे क्या करें और इसकी सूचना किस फोन नम्बर पर दें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *