व्यायाम नहीं कर पाते हैं तो दूसरे उपाय अपनाएं

 

 

 

 

कई बार हम रोजमर्रा की जिंदगी में इतने घिर जाते हैं कि अपनी फिटनेस पर भी ध्यान नहीं दे पाते। हम पतले हो रहे हैं या मोटे, इस बात पर ध्यान ही नहीं जाता और जब ध्यान जाता है तो बहुत देर हो चुकी होती है। आप तमाम कोशिशों के बावजूद व्यायाम नहीं कर पाते, तो दूसरे संभव उपाय अपनाएं। बता रहे हैं ऋषभ सक्सेना

लापरवाही और गलत आदतों के कारण हमारा शरीर इतना खराब हो जाता है कि उसे दोबारा से शेप में लाने के लिए व्यायाम करना तक मुश्किल हो जाता है। कई बार लोगों का वजन इतना ज्यादा हो जाता है कि उनके लिए व्यायाम करना तो दूर, शरीर को हिलाना-डुलाना भी मुश्किल हो जाता है। ऐसे लोग अगर वजन कम करना भी चाहें, तो उन्हें शुरुआत में अनेक दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। आइए जानते हैं उन विकल्पों के बारे में, जो आपकी सेहत को व्यायाम वाले लाभ दे सकते हैं।

मॉर्निंग वॉक करें

अगर आप सुबह-सुबह व्यायाम नहीं कर पाते हैं, तो शुरुआत हल्के-फुल्के व्यायाम से करें। इसके लिए मॉर्निंग वॉक करना यानी सुबह सैर करना बहुत अच्छा होगा। ध्यान रखें कि पैदल चलने से आपका ब्लड सर्कुलेशन ठीक होता है और अंगों को हिलाने-डुलाने से धीरे-धीरे चर्बी घटती है। अगर आप शुरू में ज्यादा नहीं चल पाते हैं, तो कम-से-कम 20 मिनट या आधा घंटा चलने से शुरुआत करें और फिर धीरे-धीरे समय बढ़ाते जाएं। इससे धीरे-धीरे चर्बी गलने लगेगी।

मनोरंजन के साथ सेहत

घर में जब भी आप खाली रहते हैं या टीवी देखते हैं, तो उस दौरान व्यायाम भी कर सकते हैं। टीवी देखते हुए आप स्ट्रेचिंग, योगासन और हल्के-फुल्के व्यायाम कर सकते हैं। अगर घर में ट्रेडमिल है, तो ट्रेडमिल पर दौड़ सकते हैं। इससे आप मनोरंजन और सेहत का बेहतरीन कॉकटेल बना सकते हैं।

सीढ़ियों का प्रयोग करें

अगर आप व्यायाम नहीं करते हैं, तो आपके लिए सबसे बेहतर उपाय यह है कि आप सीढ़ियों का ज्यादा से ज्यादा उपयोग करें। सीढ़ियों से चढ़ना और उतरना सबसे बेहतर व्यायाम है। अगर आप रोज व्यायाम नहीं कर पाते, तो सीढ़ियों से चढ़ने और उतरने का काम अपनी आदत में डाल लें। यह ऐसा व्यायाम है, जिसके लिए आपको अलग से कोई तैयारी नहीं करनी है। बस आपको घर आते-जाते और ऑफिस में आने-जाने के लिए सीढ़ियों का उपयोग करना है। सीढ़ियों के उपयोग से आप हमेशा फिट रह सकते हैं। यह एक काम आपको दिल की बीमारियों से भी दूर रखता है।

दफ्तर में रखें ध्यान

अगर आप कार से ऑफिस जाते हैं, तो अपनी गाड़ी ऑफिस से थोड़ी दूर पार्क करें, ताकि गाड़ी तक आने-जाने के दौरान आप थोड़ा पैदल चल लें। इसके अलावा छोटे-मोटे कामों के लिए नजदीक के बाजार जाना हो, तो पैदल ही निकल पड़ें। सबसे जरूरी यह है कि लंच करने के बाद तुरंत कुर्सी पर बैठकर काम न शुरू करें, 10-15 मिनट की वॉक जरूर करें।

टहलते वक्त रखें ध्यान

आमतौर पर वॉक करने का मतलब चलना ही होता है, मगर यदि आप फिट रहने के लिए वॉक कर रहे हैं, तो आपको टहलने में कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए। जैसे चलते समय हाथों को झटकते हुए तेज गति से चलें। ध्यान रखें कि चलते समय आपके हाथ पूरी तरह आगे-पीछे हों। इससे हाथ और पैरों में जमा चर्बी कम होगी। इसके अलावा ध्यान दें कि सांस पूरी तरह नाक से लें और मुंह को बंद रखें।

धीरे-धीरे आदत बनाएं

अगर शुरुआत में स्ट्रेचिंग करना मुश्किल हो रहा है, तो सिर्फ तेज गति से टहलना भी काफी है। मगर टहलने के 1-2 सप्ताह बाद हल्की-फुल्की स्ट्रेचिंग और व्यायाम शुरू कर दें। रोजाना टहलने के बाद अपने हाथों और पैरों को स्ट्रेच करें। स्ट्रेचिंग के लिए हाथों को पूरी तरह फैला लें और पैरों के बल धीरे-धीरे उछलें। दौड़ने और स्ट्रेचिंग करने के 1-2 सप्ताह बाद आप कुछ आसान व्यायाम शुरू कर सकते हैं।

अब अलग-अलग व्यायाम शुरू करें

ऐसे व्यायाम के बाद धीरे-धीरे अलग-अलग व्यायाम करना शुरू करें। आप देखेंगे कि अब आपको वैसी शारीरिक परेशानी नहीं आ रही है, जैसी पहले आया करती थी। शुरुआत में 20 मिनट से आधा घंटा भी ये सारे काम कर लें, तो ठीक है, मगर बाद में इसका समय आपको बढ़ा देना चाहिए। अगर आप एक साथ इतनी मेहनत नहीं कर सकते या आपके पास ज्यादा समय नहीं होता है, तो दिन में दो-तीन बार व्यायाम कर सकते हैं और उसके लिए 10-15 मिनट निकाल सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *