प्रभारी बीएसी, जनशिक्षकों की शालाओं में वापसी की शुरुआत

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जिला शिक्षा अधिकारी जी.एस. बघेल के दिशा – निर्देश पर जिला शिक्षा केन्द्र से संलग्नीकरण समाप्त करते हुए तीन शिक्षकों को शालाओं में लौटने के आदेश दिये गये हैं।

दूसरी तरफ डीपीसी का कहना है कि जल्द ही चार साल से अधिक समय से जनशिक्षक, बीएसी, सीएसी बने बैठे शिक्षकों को भी कार्यमुक्त कर नई प्रक्रिया अमल में लायी जायेगी।

जिला शिक्षा केन्द्र से प्राप्त जानकारी के अनुसार बरघाट के प्रभारी बीएसी महेन्द्र पटले उच्च श्रेणी शिक्षक को शिक्षण कार्य के लिये शासकीय कन्या शाला बरघाट। प्रभारी बीएसी रक्षानंद झा सहायक अध्यापक को प्राथमिक शाला पौनार। गुमानसिंह बघेल प्रभारी जनशिक्षक सहायक अध्यापक जैतपुरकला को आदेश जारी किए गये हैं। सिवनी बीआरसीसी राहुल प्रताप सिंह ने कहा कि जनशिक्षकों के अधिकांश पद रिक्त हैं, ऐसे में कार्य व्यवस्था प्रभावित न हो, इसी आग्रह के साथ बघेल को प्रभार से मुक्त न किए जाने का प्रस्ताव वरिष्ठ कार्यालय को भेजा गया है।

नई प्रतिनियुक्ति में ये होगा अहम : डीपीसी जेके इड़पाचे ने बताया कि आगामी सप्ताह में नई प्रतिनियुक्ति प्रक्रिया को अमल में लाने के लिये प्रयास हो रहे हैं। सब कुछ ठीक रहा तो नई प्रक्रिया के आवेदन लेकर, काउंसलिंग होगी। इसमें इस बात का ध्यान रखा जायेगा, कि 49 वर्ष से अधिक उम्र के शिक्षक को पात्रता नहीं होगी। जो वर्तमान में जनशिक्षक या अन्य पद पर हैं, वे काउंसलिंग में तो शामिल होंगे, किंतु पुनः दायित्व मिलने पर उन्हें जनशिक्षा केन्द्र बदलकर स्थान दिया जायेगा। यह व्यवस्था में पारदर्शिता बनाए रखने के उद्देश्य से किया जायेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *