चाहिये अदरक की चाय तो जेब होगी ज्यादा ढीली

 

 

आसमान छू रहे सब्जियों के भाव

(वाणिज्य ब्यूरो)

सिवनी (साई)। बारिश के मौसम में वैसे तो सब्जियों के भाव कम ही रहते हैं पर इस बार बारिश न होने से सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं। इसके चलते लोगों की थालियों से सब्जियां लगभग गायब ही दिख रही हैं। किसी भी सब्जी का दाम पचास रूपये से कम नहीं है।

एक अनुमान के अनुसार सब्जियों का रकबा भी लगातार जिले में घट रहा है। इसके कारण अन्य स्थानों से सब्जियों की आवक लगातार हो रही है बाहर के व्यापारी व स्थानीय दलाल मुनाफा कमा रहे हैं। गृहणियों के अनुसार सब्जियों के भाव पिछले दो हफ्ते से लगातार बढ़ रहे हैं। इसके कारण जीना मुश्किल हो गया है। भाव ज्यादा होने से सब्जियों का उपयोग लोग कम कर रहे हैं।

आलू बन रहा सहारा : वर्तमान में सब्जियों में सबसे सस्ती सब्जी की बात की जाये तो आलू 20 से 25 रूपये किलो है जिसके कारण आम परिवार की थाली में आलू की सब्जी नज़र आ रही है। वर्तमान में आलू व प्याज के भाव भर स्थिर है जिसके कारण थोड़ी तो राहत आम लोगों को बनी हुई है। सस्ती सब्जियां भर खरीद कर लोग घर ले जा रहे हैं। लोगों की मानें तो बारिश नहीं होने से ऐसी स्थिति लगातार बन रही है जल्द से बारिश नहीं हुई तो भाव और बढ़ जायेंगे।

सिवनी के खुदरा बाज़ार में आलू 20 रूपये, टमाटर 50 रूपये, हरा धनिया 200 रूपये, गिलकी 60 रूपये, लौकी 40 से 50 रूपये, शिमला मिर्च 70 रूपये, हरी मिर्च 150 रूपये, अदरक 160 से 200 रूपये, लहसुन 100 रूपये, कद्दू 50 रूपये, प्याज 20 रूपये, भटा 40 रूपये, बरबटी 40 रूपये, गवार फल्ली 40 रूपये, पालक 40 रूपये, भिण्डी 50 रूपये प्रतिकिलो मिल रही है।

सब्जियों के आसमान छूते दामों के कारण लोगों के द्वारा अब सब्जियों की बजाय बरी, कढ़ी जैसे अन्य विकल्पों का सहारा लेना आरंभ कर दिया गया है। गृहणियों की मानें तो बाज़ार में सब्जियां ताजी तो आ रही हैं, पर उमस के चलते एक दो दिन में ही ये खराब हो रही हैं।

खूब हुई माँस की बिक्री : सावन माह का आगाज बुधवार से हो जायेगा। इसके चलते सोमवार तक शहर में मटन मुर्गी की दुकानों में लोगों की भीड़ देखते ही बनी। सावन में सनातन पंथ के लोगों के द्वारा माँस को नहीं खाया जाता है, इसलिये सावन माह के आरंभ होने के पहले ही लोगों ने इसका जमकर लुत्फ उठाया। आलम यह था कि कई स्थानों पर लोगों ने लाईन में लगकर मटन मुर्गी खरीदी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *