अब तक दर्ज नहीं हो पायी एफआईआर!

 

 

छिंदवाड़ा में शवयात्रा के दौरान हुई थी सिवनी निवासी पुलिस कर्मियों की मौत!

(अपराध ब्यूरो)

सिवनी (साई)। लगभग एक माह पहले छिंदवाड़ा में एक शवयात्रा में शामिल हुए सिवनी निवासी दो पुलिस कर्मियों पर पुलिस का वाहन चढ़ गया था जिससे उनकी मौत हो गयी थी। 26 जून को घटी इस घटना में अब तक कोतवाली छिंदवाड़ा में प्राथमिकी तक दर्ज नहीं हो पायी है।

उक्ताशय का आरोप दोनों ही मृतकों के परिजनों ने लगाते हुए बताया कि छिंदवाड़ा में सशस्त्र बल में एक पुलिस कर्मी की शवयात्रा में शामिल होने एसएएफ बटालियन में कार्यरत प्लाटून कमाण्डर व लखनवाड़ा थानांतर्गत ढेंकी ग्राम निवासी सत्यपाल बघेल एवं वहीं कार्यरत प्रधान आरक्षक तथा बण्डोल निवासी उमा शंकर बघेल पर एसएएफ की एक बस चढ़ गयी थी, जिससे दोनों का निधन हो गया था।

उनके परिजनों का कहना था कि इस मामले में मर्ग प्रतिवेदन कोतवाली छिंदवाड़ा को दिये जाने के बाद भी छिंदवाड़ा कोतवाली पुलिस के द्वारा प्राथमिकी दर्ज करने में आनाकानी की जा रही है। परिजनों का कहना है कि पुलिस अधिकारियों के द्वारा एसएएफ की बस का तकनीकि परीक्षण करवाये जाने के बाद उसकी रिपोर्ट आने के बाद ही प्राथमिकी दर्ज की जायेगी।

परिजनों का आरोप है कि पुलिस के द्वारा अज्ञात वाहन के द्वारा दुर्घटना कारित किये जाने पर मामला कायम कर लिया जाता है और इसके अलावा न जाने कितने दुर्घटना के मामलों में बिना तकनीकि रिपोर्ट के ही मामला कायम कर लिया जाता है पर इस मामले में छिंदवाड़ा पुलिस के द्वारा आनकानी किया जाना समझ से परे ही है। परिजनों ने पुलिस के उच्चाधिकारियों के ध्यानाकर्षण की जनापेक्षा व्यक्त की है।