सिंहस्थ में हुए खर्च का तीन साल बाद भी हिसाब नहीं लगा पाई सरकार

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)।वर्ष 2016 में उज्जैन में हुए सिंहस्थ में कितना खर्च हुआ, सरकार इसका हिसाब अभी तक नहीं लगा पाई है। विभागों से खर्च का अंतिम ब्यौरा नहीं मिला है। 2,790 करोड़ रुपए के काम स्वीकृत हुए थे। इनमें से 2,433 करोड़ रुपए विभिन्न् कामों में खर्च होना बताया गया है।

वहीं, उज्जैन शहर कांग्रेस कमेटी द्वारा निर्माण कार्यों की जांच आयोग बनाकर व ईओडब्ल्यू से कराने की मांग विचाराधीन है। यह बात नगरीय विकास एवं आवास मंत्री जयवर्द्धन सिंह ने विधानसभा में लिखित जवाब में दी।

कांग्रेस विधायक महेश परमार और प्रताप ग्रेवाल ने सिंहस्थ में हुए खर्च को लेकर सरकार से अलग-अलग सवाल किए थे। इनके जवाब में नगरीय विकास एवं आवास मंत्री ने बताया कि खर्च का अंतिम हिसाब एकत्र किया जा रहा है।

महाकाल मंदिर में नंदी हॉल, इंदौर उन्हेल उज्जैन मार्ग, कान्ह नदी कार्य के अधूरे होने, वृक्षारोपण, पानी की टंकियों एवं अस्पताल में अव्यवस्थाओं को लेकर शिकायतों की जांच ईओडब्ल्यू से करवाए जाने पर कार्यवाही विचाराधीन है। सिंहस्थ को लेकर मानसून सत्र में 22 सवाल पूछे जा चुके हैं।

One thought on “सिंहस्थ में हुए खर्च का तीन साल बाद भी हिसाब नहीं लगा पाई सरकार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *