शरारती तत्व ने फोड़ा काँच

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। भले ही जिलाधिकारी प्रवीण सिंह के द्वारा लगातार ही जिला अस्पताल का निरीक्षण बार – बार किया जा रहा हो, पर वास्तविकता यह है कि जिला अस्पताल में भर्राशाही चरम पर पहुँच चुकी है।

बताया जाता है कि बीते दिवस सुबह दस बजे के आसपास किसी अज्ञात तत्व के द्वारा आपात कालीन सेवाओं के मरीज़ों की पर्ची बनाये जाने वाले कक्ष की खिड़की का शीशा, पत्थर मारकर तोड़ दिया गया। यह घटना उस वक्त घटी जब इस कक्ष में बैठे पर्ची बनाने वाले कर्मचारी कक्ष से बाहर थे क्योंकि वहाँ पोंछा लगाया जा रहा था।

खिड़की के शीशे में पत्थर लगते ही काँच टूटने के कारण हुई आवाज से सभी चौंक गये। लोगों ने बाहर जाकर देखा तो वहाँ कोई दिखायी नहीं दिया। यह आलम तब है जब जिला अस्पताल में सुरक्षा का ठेका निजि कंपनी को दिया जाकर उसे हर माह भारी भरकम राशि का भुगतान भी किया जा रहा है।

लोगों का कहना था कि अस्पताल को तीसरी आँख (सीसीटीवी कैमरे) की जद में रखा जरूर गया है किन्तु अस्पताल में सीसीटीवी कैमरे शोभा की सुपारी ही बने हुए हैं। जिला अस्पताल का कायाकल्प अभियान जारी है इसलिये जिला प्रशासन से जनापेक्षा की जा रही है कि जिस भी अधिकारी के द्वारा गुणवत्ता विहीन सीसीटीवी कैमरों की संस्थापना का काम करवाया गया है उस अधिकारी और सुरक्षा एजेंसी के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाये।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *