महिला अपराध व विवेचना में गंभीरता जरूरी

 

(अपराध ब्यूरो)

सिवनी (साई)। पुलिस विभाग के निर्देश पर महिला अपराध के प्रति संवेदनशीलता के लिये पुलिस कंट्रोल रूम में एसपी कुमार प्रतीक के मार्गदर्शन में मैदानी अधिकारियों के लिये दो दिवसीय प्रशिक्षण का आयोजन किया गया।

इस अवसर पर महिलाओं के खिलाफ अपराध पर मौजूदा कानून की जानकारी के साथ ही पुलिस की भूमिका के संबंध में जानकारियां दी गयी। एडीशनल एसपी गोपाल खाण्डेल ने कहा कि महिला अपराधों पर विवेचना में गंभीरता जरूरी है। उन्होंने महिला संबंधी कानून की जानकारियां दीं।

इस अवसर पर एसडीओपी संजीव पाठक ने जिले में महिलाओं के खिलाफ दर्ज मामले का अध्ययन करने, डीएनए टेस्ट, दहेज प्रकरण व महिलाओं के खिलाफ सायबर अपराध आदि विषय पर जानकारी दी।

थानों में महिलाओं के खिलाफ अपराध घटित होने पर महिलाओं के थाने आने पर पुलिस अधिकारियों द्वारा उनकी समस्या को गंभीरता से लेने, न्यायोचित व्यवहार करने को कहा गया। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य समाज में महिलाओं के प्रति बढ़ रहे अपराधों पर नियंत्रण कर रोकथाम लगाना और जागरूकता लाना बताया गया है। प्रशिक्षण में निरीक्षक, पाँच उप निरीक्षक, 13 सहायक उप निरीक्षक व 12 प्रधान आरक्षक शामिल हुए।

2 thoughts on “महिला अपराध व विवेचना में गंभीरता जरूरी

  1. Pingback: Functional testing

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *