किसी भी दिन 14 विभाग प्रमुखों के साथ कलेक्टर पहुँच जायेंगे गाँव

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। माह में दो दिन कलेक्टर सहित 14 विभाग के प्रमुख गाँवों में जाकर लोगों की समस्याएं सुनेंगे। दरअसल पूरे प्रदेश में एक अगस्त से आपकी सरकार, आपके द्वार योजना की शुरूआत हो रही है।

सामान्य प्रशासन विभाग के अपर मुख्य सचिव प्रेमचंद मीना कलेक्टर्स, जिला पंचायत सीईओ व अन्य अधिकारियों को एक पत्र जारी कर आपकी सरकार, आपके द्वार योजना की जानकारी दी है। इस योजना का खास बात यह है कि कलेक्टर अपने दल-बल के साथ किसी भी दिन गाँव पहुँच जायेंगे।

ग्रामीण रहवासियों की समस्याओं के निराकरण और विकास के सुझावों पर अमल के लिये आगामी एक अगस्त से आपकी सरकार आपके द्वार योजना की शुरूआत हो रही है। इसके अंतर्गत जिला स्तर पर प्रत्येक तीन माह के लिये ग्राम भ्रमण और शिविर निर्धारित कर हर माह दो भ्रमण कार्यक्रम और शिविर लगवाए जायेंगे। जिसकी जानकारी जिले के सभी जन-प्रतिनिधियों को दी जायेगी। शिविर के लिये विकासखण्ड मुख्यालय या विकासखण्ड के ऐसे गाँव का चयन किया जायेगा, जहाँ साप्ताहिक बाजार या हाट भरता हो।

ग्राम भ्रमण होगा और विकासखण्ड शिविर लगेंगे

आपकी सरकार आपके द्वार के प्रथम भाग में चयनित विकासखण्ड के एक गाँव का चयन कर आम जनता से सीधे संबंध वाले विभागों के सभी जिला अधिकारी एक ही वाहन में ग्राम तक पहुँचकर शासकीय योजनाओं का जायजा लेंगे। भ्रमण वाले गाँव का नाम गोपनीय रहेगा। भ्रमण में गाँव की सभी संस्थाओं का निरीक्षण किया जायेगा। इन संस्थाओं में स्कूल, आंगनवाड़ी केन्द्र, राशन की दुकान, अस्पताल, ग्राम पंचायत का दफ्तर आदि शामिल हैं। भ्रमण सुबह 9 से दोपहर एक बजे तक रहेगा। इसके बाद दोपहर दो बजे से विकासखण्ड स्तरीय शिविर लगेंगे। शिविर में कलेक्टर सहित भ्रमण करने वाले जिला अधिकारी शामिल रहेंगे।

योजना का उद्वेश्य : प्रशासन और शासन को ग्रामीण नागरिकों के और करीब ले जाना। नागरिकों की समस्याओं-शिकायतों का निवारण। नागरिक की विकास संबंधी माँगे प्राप्त करना और उन्हें पूरा करना। प्रशासन की जवाबदेही सुनिश्चित करना। विभिन्न सरकारी योजनाओं और सुविधाओं का निरीक्षण तथा निगरानी।

इसके अलावा शिविर में आने वाले आवेदक समस्याओं का तत्काल निराकरण प्राप्त करेंगे। जिन आवेदनों का तुरंत निराकरण संभव नहीं होगा, उसके संबंध में आवेदक को सूचित किया जायेगा। एक समय-सीमा में निराकरण का कार्य किया जायेगा। शिविरों को व्यवस्थित ढंग से लगाने और आमतौर पर उसी दिन समस्या हल करने को प्राथमिकता दी जायेगी।

साथ ही साथ शिविर में आवेदकों के लिये सुविधाजनक प्रतीक्षालय का इंतजाम भी किया जायेगा। शिविर के संबंध में मुनादी एवं अन्य उपायों से भी ग्रामीणों तक सूचना पहुँचाने का कार्य किया जायेगा। शिविर पूर्ण हो जाने पर राज्य सरकार को विस्तृत प्रतिवेदन भेजा जायेगा।

अधिकारी शामिल होंगे : योजना के तहत जिले के मंत्रियों और विधायकों से सम्पर्क कर शिविरों की रूपरेखा तिथिवार तय की जायेगी। प्रत्येक मंत्री और विधायक एक माह में कम से कम दो विकासखण्ड शिविरों में मौजूद रहेंगे। आमजन से अधिक संबंध वाले राजस्व, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, वन, ऊर्जा, आदिम जाति कल्याण, अनुसूचित जाति कल्याण, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण, किसान-कल्याण और कृषि विकास, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, स्कूल शिक्षा, जल-संसाधन, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, सहकारिता और खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता विभागों के जिला स्तर के अधिकारी शिविरों में आवश्यक रूप से हिस्सा लेंगे।

4 thoughts on “किसी भी दिन 14 विभाग प्रमुखों के साथ कलेक्टर पहुँच जायेंगे गाँव

  1. Pingback: prestondecks.com
  2. Pingback: DevOps Companies

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *