हथौड़े से तोड़ा था एटीएम, मिली सजा

 

 

(अपराध ब्यूरो)

सिवनी (साई)। वर्ष 2013 में बरघाट स्थित भारतीय स्टेट बैंक के एटीएम को हथौड़े से तोड़ने के आरोपी को माननीय न्यायालय ने सजा सुनायी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार 24 दिसंबर 2013 को एसबीआई बरघाट के एटीएम को क्षति पहुँचाने की जानकारी वहाँ पदस्थ सुरक्षा गार्ड संजय महोबिया के द्वारा एटीएम प्रभारी माधव बाडीघरे को दी गयी थी। उन्होंने बताया था कि आरोपी रवि बघेल (48) पिता रघुराज सिंह, निवासी कान्हीवाड़ा तिराहा, बरघाट के द्वारा उक्त कृत्य किया गया था।

उन्होंने बताया था कि आरोपी के द्वारा एटीएम से पैसे निकालने की बात कहकर, उसके द्वारा एटीएम में प्रवेश किया गया था। इसके बाद आरोपी के द्वारा जेब से हथौड़ा निकालकर एटीएम के स्क्रीन और बोर्ड को तोड़ दिया गया था। इसके उपरांत एटीएम प्रभारी मौके पर पहुँचे और उन्होंने इसकी सूचना बरघाट थाने में दर्ज करवायी थी।

इस मामले की सुनवायी माननीय अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट श्रीमति सुमन चौधरी के न्यायालय में की गयी। इस मामले में शासन की ओर से सहायक जिला अभियोजन अधिकारी श्रीमति उमा चौधरी के द्वारा तर्क किये गये और साक्ष्य रखे गये। इनसे सहमत होकर माननीय न्यायालय के द्वारा आरोपी को न्यायालय उठने तक की सजा और एक हजार रूपये तथा लोक संपत्ति नुकसानी निवारण अधिनियम 1984 के तहत दो हजार रूपये अर्थ दण्ड से दण्डित किया गया है।