कौन देगा धान खरीदी के 32 लाख का हिसाब!

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

आष्टा (साई)। जिले के बरघाट थाना अंतर्गत आष्टा वृहत्ताकार सेवा सहकारी समिति में भष्ट्राचार के कई मामले उजागर हो रहे हैं।

वर्ष 2018 – 2019 में आष्टा वृहत्ताकार सेवा सहकारी समिति के द्वारा धान खरीदने में 32 लाख रुपये खर्च कर दिये गये। शासन का पैसा व्यर्थ खर्च करने का आरोप लगाया गया है। संचालक बोर्ड के सदस्यों ने प्रबंधक सहाय सिंह चौधरी पर मनमानी रुपये खर्च करने आरोप लगाया है।

समिति की बैठक में संचालक बोर्ड के सदस्यों ने वृहत्ताकार सेवा सहकारी समिति आष्टा प्रबंधक सहाय सिंह चौधरी के द्वारा वर्ष 2018 – 2019 में धान खरीदने में 32 लाख रुपये खर्च कर दिया गया। धान खरीदी में खर्च की गयी राशि का हिसाब संचालक बोर्ड के सदस्यों ने विस्तार से माँगा तो प्रबंधक के द्वारा एकमुश्त 32 लाख रुपये रुपये राशि का खर्च बता दिया गया।

प्रबंधक द्वारा धान खरीदी में खर्च की राशि ब्यौरा विस्तार पूर्वक न बताने पर संचालक बोर्ड के सदस्यों ने बैठक में सर्वसम्मति से सहाय सिंह चौधरी को प्रबंधक पद से तो हटा दिया लेकिन सदस्यों को धान खरीदी की राशि का विस्तार से हिसाब नहीं बताया गया है।

ग्रामीणों का कहना है कि पद से हटाने से हिसाब का पता नहीं चल पायेगा। ग्रामीणों के द्वारा पुलिस से धान खरीदी में खर्च की गयी राशि की जाँच की माँग की जा रही है। ग्रामीणों ने इस मामले में पुलिस के हस्तक्षेप की माँग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *