कन्या महाविद्यालय की छात्राओं ने जाना ऊर्जा हेल्पलाईन को

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। ऊर्जा हेल्पलाईन महिलाओं एवं बच्चों के लिये होने वाले अपराधों को रोकने के लिये बनाया गया है। कन्या महाविद्यालय की छात्राओं के द्वारा इसके बारे में विस्तार से जाना।

आपकी बच्ची जब स्कूल या कोंचिग से पढ़कर घर वापस आती है तो उससे उसके शिक्षकों के व्यवहार के संबंध में पूछे कहीं कोई शिक्षक उसके साथ गलत व्यवहार तो नही कर रहा है। आपकी बच्ची अगर आपको परेशान दिखायी दे रही है या डरी,सहमी है। कुछ बताना चाहती है परंतु बता नही पा रही है तो उससे स्नेहपूर्वक बात करके उसकी समस्या को पूछे। कहीं उसके साथ कुछ गलत तो नही हो रहा है। जिसे वह छुपा रही है अगर ऐसा है तो तत्काल ऊर्जा डेक्स से संपर्क करें। इसी बात को लेकर नगर कोतवाली में जागरूकता अभियान के तहत उपस्थित कलेक्टर प्रवीण सिंह अढ़ायच ने व्यक्त किये।

इस अवसर पर जिला पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक ने भी बताया कि आज कल एण्डराईड मोबाईल हर बच्चों के पास है बच्चों के द्वारा सोशल मीडिया में फेसबुक, ट्विटर, व्हॉट्सएप, इंस्टाग्राम पर एंकाऊन्ट खोले है आप अपने सोशल मीडिया एंकाऊन्ड को सावधानी पूर्वक इस्तेमाल करें।

आपने कहा कि महिला बस में सफर करती है तो आपको पता होना चाहिये कि बस में आगे की 05 सीट रिर्जव सीट होती है। यदि बस का कंडेक्टर आपको बस में महिला रिर्जव सीट नही देते है तो उस सीट पर पुरूष बैठा हो तो आप उसी समय तुरंत पुलिस को शिकायत कर सकते है।

कन्या महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ.अर्चना चंदेल ने कहा बच्चियों को कोई अंजान व्यक्ति,पड़ोसी,रिश्तेदार या अन्य कोई पुरूष गलत तरीके से छूता है तो या ऐसे शब्द बोलता है जो सुनने में बुरा लगे तो तुरंत आप अपने माता, पिता या बहन को बताकर ऊर्जा डेक्स में शिकायत कर सकते है।

इस अवसर पर छात्राओं को एससी, एसटी एवं महिलाओं को एवं राष्ट्रीय सेवा योजना की छात्राओं को उनके अधिकार एवं ऊर्जा डेक्स के संबंध में विस्तार से बताया गया। इस कार्यक्रम में कन्या महाविद्यालय की 140 छात्राऐं एवं डॉ.शेषराव नावंगे, प्रोफे.कल्पना इंगले, अतिथि विद्वान पवन नाग सहित अनेक लोग शामिल हुए।