दलदल, कीचड़ में तब्दील ढुठेरा-खापा मार्ग

 

 

पैदल चलने लायक भी नहीं बचा मार्ग, फंस रहे वाहनों के पहिये

(ब्यूरो कार्यालय)

केवलारी (साई)। विकास खण्ड केवलारी के ग्राम ढुठेरा से खापा मार्ग अत्यधिक जर्जर कीचड़, दलदल युक्त हो गया है। बारिश के दिनों में मार्ग में हुए कीचड़ के कारण बाईक व अन्य वाहन चालकों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

ग्रामवासियों में शामिल गजानंद ठाकुर, जगन्नाथ ठाकुर, जगन्नाथ रजक, भरत बघेल, बोध सिंह ठाकुर, हरि शंकर ठाकुर, विनोद ठाकुर, दुर्गा शंकर ठाकुर, भगत परते आदि ने बताया कि मार्ग में इतना ज्यादा कीचड़, दलदल हो गया है कि यहाँ से पैदल चलना भी दूभर हो रहा है। वाहनों के पहिये गीली मिट्टी में धंस रहे हैं।

ग्रामीणों ने बताया कि लगभग चार किलोमीटर लंबा मार्ग पूरी तरह से कीचड़ व पानी भरा हुआ है। इस मार्ग से ग्राम खापा के लोग ढुठेरा सोसायटी के लिये जाना – आना करते हैं। वहीं ग्राम उक्त मार्ग से ग्राम ढुठेरा, पाथरफोड़ी, झगरा, पांजरा, दुधिया, लोपा, खापा के किसान कृषि कार्य के लिये काफी मुसीबतों के बीच जाना – आना कर पा रहे हैं।

ग्रामीणों ने बताया कि उक्त मार्ग को शीघ्र पक्का मार्ग बनाये जाने के लिये कई बार जन प्रतिनिधियों, पंचायत सचिव व अधिकारियों से माँग की गयी लेकिन इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहा है। ग्रामीणों ने कलेक्टर, एसडीएम केवलारी, जनपद पंचायत अधिकारी से माँग की है कि शीघ्र ही उक्त सड़क का निर्माण करवाया जाये।

मार्ग के लिये कई बार प्रस्ताव दिये जा चुके हैं, अभी तक किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं होने के कारण बारिश के दिनों में मार्ग पूरी तरह से कीचड़, दलदल में तब्दील हो गया है. वाहनों के पहिये फंस रहे हैं.

संजीव अरेवा, सरपंच,

ग्राम पंचायत ढुठेरा.