मॉब लिन्चिंग रोकने के लिए जागरूक हुए ग्रामीण

 

 

 

 

अजनबी को दिखाना होगा पहचान पत्र

(ब्‍यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। मध्य प्रदेश में बच्चा चोरी की अफवाहों के कारण हो रही मॉब लिन्चिंग (भीड़ का हिंसक होना) की घटनाओं से हर कोई परेशान है। इस तरह की अफवाहों से होने वाली घटनाओं को रोकने के लिए नरसिंहपुर जिले के झामर गांव के लोगों ने एक तरकीब निकाली है। इस गांव में आने वाले अजनबी को अपना पहचान पत्र दिखाना होगा, तभी वह गांव में जा सकेगा।

नरसिंहपुर जिला मुख्यालय के करीब झामर गांव स्थित है। इस गांव की आबादी लगभग दो हजार है। पिछले कुछ दिनों में सोशल मीडिया पर वायरल होने वाली बच्चा चोरी की अफवाह के चलते राज्य के कई हिस्सों में भीड़ के हिंसक होने की खबरों के बीच इस गांव के लोगों ने एहतियात बरतते हुए यह कदम उठाया है।

पहचान पत्र देखकर दी जाएगी एंट्री

गांव के कोटवार (चौकीदार) रामसेवक चढ़ार ने बताया है कि गांव के लोगों ने आपस में मिलकर तय किया है कि जो भी अजनबी व्यक्ति गांव में आए, पहले तो उसका पहचान पत्र देखा जाए। उसकी पहचान होने और संतुष्टि होने पर ही उक्त व्यक्ति को गांव में जाने दिया जाएगा। एक तरफ जहां अजनबी के गांव में जाने देने से पहले पहचान करने की व्यवस्था की गई है, वहीं कोटवार घर-घर जाकर लोगों को सजग भी कर रहा है।

अफवाहों पर ध्यान न देने की अपील

चढ़ार लोगों को बता रहे हैं कि सोशल मीडिया खासकर मोबाइल फोन पर संदेश के जरिए आने वाली अफवाहों पर ध्यान न दें और इन भ्रामक सूचनाओं को आगे भी न बढ़ाएं। जिले के अडिशनल कलेक्टर (एडीएम) राजेश ठाकुर भी झामर गांव के लोगों की इस पहल को सकारात्मक और सार्थक मान रहे हैं। उनका कहना है कि इस व्यवस्था से जहां गांव के लेाग अजनबी की पहचान सुनिश्चित कर लेंगे, वहीं किसी तरह की अप्रिय घटना होने से भी बचा जा सकेगा।

पुलिस को सतर्क रहने के आदेश

ज्ञात हो कि राज्य में बीते एक पखवाड़े में दर्जनभर से ज्यादा मॉब लिन्चिंग की घटनाएं हो चुकी हैं। भिखारी, मंदबुद्धि व अन्य लोगों को भीड़ की हिंसा का शिकार बनना पड़ा है। इसके चलते पिछले दिनों ही राष्ट्रीय खुफिया एजेंसी (आईबी) और उसके बाद राज्य की खुफिया शाखा ने पुलिस को सतर्क रहने के विशेष निर्देश जारी किए थे। इसी तरह सागर, टीकमगढ़, खरगोन सहित अन्य जिलों के पुलिस अधीक्षक भी अपने परामर्श जारी कर चुके हैं।

32 thoughts on “मॉब लिन्चिंग रोकने के लिए जागरूक हुए ग्रामीण

  1. Architecture entirely to your diligent generic cialis 5mg online update the ED: alprostadil (Caverject) avanafil (Stendra) sildenafil (Viagra) tadalafil (Cialis) instrumentation (Androderm) vardenafil (Levitra) For some men, old residents may announce climb ED. help with term papers Ivhzdk excnys

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *