भावांतर की राशि के लिये भटक रहे किसान

 

किसानों ने दी आंदोलन की चेतावनी

(फैयाज खान)

छपारा (साई)। छपारा क्षेत्र के किसान भावांतर की राशि के लिये दर-दर भटक रहे हैं। किसानों ने राशि न मिलने पर आंदोलन की चेतावनी भी दी है।

बताया जाता है कि मंगलवार को जन सुनवायी में शिकायत देते हुए छपारा क्षेत्र के ग्राम बिछुआ, बर्रा, पिपरिया के किसानों ने चेतावनी दी है कि यदि 10 दिन के अंदर उनके भावंतर की राशि खाते में नहीं डाली गयी तो छपारा तहसील के सामने धरना प्रदर्शन करेंगे।

प्राप्त जानकारी के अनुसार बिछुआ बर्रा के 40 से अधिक किसानों ने अपने खेत में मक्का की फसल लगायी थी जिसे कृषि उपज मण्डी छपारा में बेचा गया था। 06 माह से अधिक गुजर जाने के बाद भी इन किसानों के खाते में भावंतर की राशि प्राप्त नहीं हुई है। किसानों के द्वारा कृषि उपज मण्डी, तहसील कर्यालय, कलेक्टर कार्यालयों के चक्कर काट चुके हैं। बावजूद इसके अब तक उनके खाते में भावंतर की राशि नहीं पहुँच पायी है।

प्राप्त जानकारी के मुताबिक 40 किसानों को तत्कालीन पटवारी के द्वारा बताया गया था कि भावंतर की वेबसाइट में नहीं दर्ज करवायी गयी थी जिससे किसान सत्यापित रकबे आ गये थे। इसके सुधार के लिये कई बार आवेदन दिये जा चुके हैं। उक्त मामले पर तहसीलदार छपारा का कहना है कि किसानों की जानकारी ऊपर भेजी गयी थी जहाँ से उक्त किसानों को ऑफलाईन सत्यापित के लिये सूची भेजी गयी है। उक्त मामले पर कार्यवाही जारी कर दी गयी है। जल्द ही पूरी कार्यवाही के उपरांत किसानों के खाते में भुगतान के लिये सूची भेजी जायेगी और किसानों की राशि भावंतर की मुहैया करवायी जायेगी।