गुंडे मुख्तियार के फोन में मिली कॉल रिकॉर्डिंग

 

 

 

 

बोला- पुलिस मेरा कुछ नहीं बिगाड़ सकती

(ब्यूरो कार्यालय)

इंदौर (साई)। बच्चों के अपहरण, मारपीट, टॉयलेट कमोड में मुंह डालने और झूठी गवाही देने के जुर्म में गिरफ्तार बदमाश मुख्तियार के मोबाइल में कई लोगों की कॉल रिकॉर्डिंग मिली है।

रिकार्डिंग में वह यह भी बोला कि टीआई रत्नेश मिश्रा को मैंने निपटा दिया और मंडला तबादला करा दिया। नए टीआई तहजीब काजी तो अपने आदमी हैं। पुलिस उसका कुछ भी नहीं बिगाड़ सकती। मुख्तियार के कॉल लॉग में कई पुलिसवालों के नंबर भी मिले हैं, जिनकी उससे बात होती रहती थी। उधर, इस मामले में गृहमंत्री ने दोषियों पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। एक एसआई का गुरुवार को तबादला कर दिया।

विजय नगर थाना पुलिस ने बदमाश मुख्तियार शेर खां के मोबाइल की छानबीन की तो थाने में पदस्थ एक एसआई, लसूड़िया, तिलक नगर के सिपाहियों के नंबर मिले जिनसे वह सतत संपर्क में था। इससे अफसरों को शक गहराया और बुधवार रात मोबाइल के फोल्डर (फाइल मैनेजर) की जांच की। उसमें कई लोगों की कॉल रिकॉर्डिंग मिल गई। कुछ रिकॉर्डिंग उसने कमलेश यादव नामक व्यक्ति को व्हाट्सऐप पर भेजी थी।

इसमें वह तत्कालीन टीआई रत्नेश मिश्रा के बारे में बोल रहा था कि मैंने उन्हें मंडला भिजवा दिया है। वर्तमान टीआई काजी उसके आदमी है। वह एक सीएसपी को भी अपना करीबी बता रहा था। गृहमंत्री ने इस मामले को गंभीरता से लिया और अफसरों को कॉल कर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए।

विजय नगर थाने के तत्कालीन एसआई और वर्तमान एसआई की भूमिका संदिग्ध है। दोनों ही मुख्तियार के इशारे पर जांच करते थे। जिस बच्चे को मुख्तियार ने अगवा कर पीटा, टॉयलेट चटवाई उसे वह थाने भी लेकर आया था। उसे एसआई सरदारसिंह सोलंकी के सुपुर्द किया और चार दिन थाने में बिठाए रखा। बच्चे के पिता ने उसके पैरों पर सिर रखकर माफी मांगी तब पुलिस ने उसे छोड़ा। इतना ही नहीं वह थाने के एसआई नवीन श्रीवास्तव सहित कई लोगों की झूठी शिकायतें कर गृहमंत्री के नाम से ब्लैकमेल करता था। मामले में एसआई सोलंकी का तबादला कर दिया गया है।

एमआईजी थाना पुलिस ने बुधवार रात मुख्तियार, उसके भाई मुस्तकीम और इरफान के खिलाफ 17 वर्षीय किशोर की शिकायत पर केस दर्ज किया। मामला 12 जुलाई का है। आरोपित ने बच्चे को पीटा और हत्या की धमकी दी। वह थाने पहुंचा तो पुलिसवालों ने अदमचेक काटकर भगा दिया। पीड़ित परिवार ने सीएम हेल्पलाइन पर शिकायत की। एसएसपी ने टीआई इंद्रेश त्रिपाठी को फटकार लगाई और केस दर्ज कराया।

मुख्तियार का एक सीसीटीवी वीडियो सामने आया है। इसमें वह हाथ में पिस्टल लेकर गोली मारने की धमकी दे रहा है। टीआई तहजीब काजी के मुताबिक, पुलिस पिस्टल के बारे में पूछताछ कर रही है। उसके बारे में यह भी जानकारी भी मिली है कि वह 30 हजार रुपए महीने के दो गनमैन साथ रखता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *