किसान की बेटी ने छुआ आसमां

 

 

 

 

यूरोप की सबसे ऊंची चोटी एल्ब्रुस पर लहराया तिरंगा

(ब्‍यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। सीहोर जिले के ग्राम भोजनगर की मेघा परमार ने हिमालय के माउंट एवरेस्ट के बाद अब योरप के सबसे ऊंचे पर्वत माउंट एल्ब्रुस की चोटी पर तिरंगा फहराया है। यह कीर्तिमान बनाने वाली वे प्रदेश की पहली महिला हैं।

मेघा रूस के पर्वत माउंट एल्ब्रुस (18510.44 फीट) पर 8 अगस्त को स्थानीय समयानुसार सुबह 10.14 बजे माइनस 18 डिग्री तापमान में पहुंचीं थी। मेघा भोजनगर गांव के किसान दामोदर परमार व मंजू परमार की बेटी हैं। मेघा ने इसी साल 22 मई को विश्व के सबसे ऊंचे पर्वत मांउट एवरेस्ट को फतह किया था। मेघा ने अपना एक्सपीडिशन 5 अगस्त को शुरू था। 8 अगस्त को रात 1.00 बजे निकलकर सुबह 10.14 पर चोटी पर पहुंचकर समिट किया।

मेघा की टीम लीडर भरत, गाइड यूरी व सदस्य अरूण, आशा, महिपाल, सतीश और शेखर थे। मेघा को महिला बाल विकास विभाग ने बेटी बचाओ अभियान का ब्रांड एमबेसडर घोषित किया है।