उमा भारती होंगी प्रदेश में सक्रिय

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

ग्वालियर (साई)। शिवराज सिंह चौहान के कमजोर होते ही मध्य प्रदेश में सक्रिय हुईं उमा भारती ने स्पष्ट शब्दों में कहा है कि वो मध्य प्रदेश की राजनीति से न कभी दूर हुईं थी, और ना कभी दूर होंगी।

पार्टी (बीजेपी) जो जिम्मेदारी देगी उसे वो निभाएंगी। बता दें कि इससे पहले उमा भारती ने पार्टी की इच्छा के बावजूद लोकसभा चुनाव लड़ने से इंकार कर दिया था। तभी से यह माना जा रहा था कि उमा भारती मध्य प्रदेश में कम बैक की प्लानिंग कर रहीं हैं।

उमा भारती ने कमल नाथ सरकार पर कहा कि यह (कांग्रेस) सरकार धोखे से बन गई है और अब जनता खुद को छला हुआ महसूस कर रही है, लेकिन कांग्रेस की कमल नाथ सरकार अपनी ही मौत मरेगी, इसकी हत्या का हम पाप नहीं लेंगे, क्योंकि कांग्रेस की सरकार को कांग्रेस के लोग ही मारेंगे।

इसके साथ ही उमा भारती ने कहा कि हमने अटल जी से सीखा है और हम सत्ता के लोभी नही है, लेकिन कांग्रेस के लोग ही अपनी सरकार गिराएंगे। कुल मिलकर उमा भारती ने स्पष्ट कर दिया है कि वह अब मध्य प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय हो गईं हैं।

जारी है नेताओं से मुलाकात का दौर : ज्ञातव्य है कि उमा भारती ग्वालियर में अपनी करीबी रिश्तेदार के बेटे से मिलने के लिए ग्वालियर की सिंधिया स्कूल पहुंची थीं, यहां वे लगभग एक घंटे से ज्यादा रही है। उमा भारती बीते कुछ वर्षाे में इतनी सक्रिय कभी नजर नहीं आईं, जितनी कि इस बार नजर आ रही हैं। बीते तीन दिनों से वह भोपाल में हैं और उनकी नेताओं से मुलाकात का दौर जारी है। साथ ही वह पार्टी के उन नेताओं के साथ खड़ी होती नजर आ रही हैं, जो किसी न किसी तौर पर मुश्किल में हैं।