डकैती के आरोपी रमेश रोजगारी का निधन

 

 

घंसौर एसडीओपी के घर से पिस्टल चोरी का था आरोप!

(अपराध ब्यूरो)

सिवनी (साई)। छिंदवाड़ा जिले में उमरानाला में बीते माह डकैती डालने के आरोपी रमेश ठाकुर उर्फ रोजगारी ने बुधवार को छिंदवाड़ा में दम तोड़ दिया। उसकी मौत बीमारी के चलते हुई बताई जा रही है। रमेश ठाकुर मूलतः सिवनी जिले की पलारी चौकी के अंतर्गत मैना पिपरिया ग्राम का निवासी था।

छिंदवाड़ा पुलिस सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि छिंदवाड़ा जिले के मोहखेड़ थानांतर्गत उमरानाला चौकी में एक घर में 25 एवं 26 जुलाई की दर्मयानी रात डकैती डालकर फरार हुए आठ आरोपियों में महाराष्ट्र निवासी 30 वर्षीय रवि उर्फ महाराजे, मैना पिपरिया सिवनी निवासी 30 वर्षीय रमेश उर्फ रोजगारी, बिछुआ थाना निवासी 36 वर्षीय देवा उर्फ देवराव, महाराष्ट्र निवासी 33 वर्षीय चेतन, सारंगबिहरी निवासी 31 वर्षीय गोलू उर्फ श्रावण खापरे, नैनपूर निवासी 20 वर्षीय बड्डा उर्फ राजकुमार, 22 वर्षीय मोनू ठाकुर एवं एक नाबालिक शामिल था।

सूत्रों ने बताया कि इन सभी आरोपियों पर सिवनी जिले के घंसौर एसडीओपी श्रृद्धा सोनकर की सर्विस रिवाल्वर चोरी के आरोप भी लगे थे। यह रिवाल्वर इनके पास से बरामद भी की जा चुकी है।

सूत्रों ने बताया कि इन सभी आरोपियों को पुलिस ने पकड़ लिया था, पर ये उमरानाला पुलिस थाने में सिपाही को घायल कर फरार हो गए थे। इनमें से सारे आरोपियों को पुलिस ने धर दबोचा था। आरोपी रमेश उर्फ रोजगारी को पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से छिंदवाड़ा जिले के जंगलों से पकड़ा था।

सूत्रों ने बताया कि 09 अगस्त को इनको जब जेल में दाखिल कराया जा रहा था तब मेडिकल जांच एवं मुलाहजे के दौरान रमेश उर्फ रोजगारी का स्वास्थ्य खराब पाया गया था। इसके चलते उसे उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था। सूत्रों ने बताया कि वह पहले से ही बीमार चल रहा था और थाने से भागने के बाद भागदौड़ में उसकी बीमारी बढ़ गई थी।

सूत्रों ने बताया कि बुधवार को रमेश ठाकुर उर्फ रोजगारी ने अस्पताल में दम तोड़ दिया है। रमेश का शव देर रात तक सिवनी पहुंचने की उम्मीद है। उसका अंतिम संस्कार ब्रहस्पतिवार को पलारी चौकी के मैना पिपरिया ग्राम में किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *