जन्माष्टमी 23 व 24 को शुभ योग विद्यमान

 

 

शुभ कार्य से पहले जरुर करें इस मंत्र का जप

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। श्रीकृष्ण जन्माष्टमी 23 और 24 अगस्त को मनाई जाएगी। इस मौके पर शहर में जगह-जगह आयोजन होंगे। मंदिरों में मध्यरात्रि में श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाया जाएगा।

शहर में अनेक स्थानों पर मटकी फोड़ प्रतियोगिता के साथ-साथ रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। कान्हा के स्वागत की तैयारियों से शहर में इन दिनों उत्सवी माहौल नजर आ रहा है। जन्माष्टमी के चलते शहर कृष्णमय नजर आने लगा है।

23 और 24 को रहेगा शुभ योग : ज्योतिषाचार्यों के अनुसार इस बार जन्माष्टमी 23 और 24 अगस्त को आ रही है। दोनों ही तिथि शुभ योग विद्यमान रहेंगे। तिथि और नक्षत्र के आगे पीछे होने के कारण इस बार जन्माष्टमी का पर्व दो दिन रहेगा। 23 अगस्त को श्रीवत्स योग विद्यमान रहेगा। इसी प्रकार 24 अगस्त को श्रीवत्स योग और अमृत सिद्धि योग का संयोग रहेगा।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के शुभ दिन हर क्षेत्र में विजयश्री मिलती है, साथ ही अनेक मनोकामनाओं की पूर्ति भी होने लगती है। मान्यताओं के अनुसार इस दिन नमो भगवते श्रीगोविन्दाय का जाप करने पर अधिक लाभ मिलता है।

मंदिरों में विद्युत साज सज्जा : इस दौरान देवालयों विशेषक दुर्गा चौक स्थित श्रीकृष्ण मंदर में आकर्षक विद्युत साज सज्जा की गई है। घरों में भी कान्हा के स्वागत के लिए विशेष तैयारियां की जा रही है। इस बार शहर के कुछ मंदिरों में 23 तो कुछ में 24 अगस्त को जन्माष्टमी मनाई जाएगी। मध्यरात्रि में 12 बजे शहर के मंदिर नंद घर आनंद भयों के जयकारों से गूंज उठेगे। इसके बाद पंजीरी के प्रसाद का वितरण किया जाएगा।

बाजारों में खरीदारी : जन्माष्टमी के लिए बाजारों में भी खरीदारी का दौर जोर शोर से चल रहा है। पूजन सामग्री की दुकानों पर भगवान की पोशाक, झूले, मोर मुकुट, आभूषण आदि खरीदने के लिए भारी भीड़ लग रही है। इस बार कई वैरायटियों के झूले, सिंहासन, पोशाक बाजार में है।