खाद्य गुणवत्ता को लेकर छापेमारी जारी

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जिला कलेक्टर प्रवीण सिंह के निर्देशन में खाद्य एवं औषधि प्रशासन के दल द्वारा खाद्य पदार्थों की मानक गुणवत्ता हेतु कान्हीवाड़ा एवं लखनादौन के विभिन्न खाद्य प्रतिष्ठानों का रविवार 25 अगस्त को औचक निरीक्षण किया गया।

इसमें ग्राम कान्हीवाड़ा स्थित आनंद ट्रेडर्स का निरीक्षण में मौके पर पाये गए 03 ड्रम खुला रिफाइंड सोयाबीन तेल के नमूने लेने के साथ ही खुले तेल के 588 लीटर स्टॉक को गुणस्तर के न होने की शंका एवं अधिनियम के प्रावधानों के अनुसार विक्रय हेतु प्रतिबंधित होने के कारण जप्त किया गया। जिसकी कीमत लगभग 47 हजार रुपये है।

इसी तरह लखनादौन स्थित युवांश मिडवे ट्रीट का निरीक्षण कर मौके पर भोजन निर्माण में प्रयुक्त होने वाले पनीर एवं दही की नमूने लिए गए। ग्राम कसई लखनादौन स्थित राजस्थानी गुर्जर ढाबा एवं पिपरिया के न्यू पंजाबी ढाबा के निरीक्षण में गन्दगी एवं अस्वच्छ परिस्थितियों में खाद्य पदार्थ का निर्माण होना पाये जाने पर दल द्वारा प्रकरण तैयार कर अपर कलेक्टर न्यायालय प्रेषित किया गया है।साथ ही अन्य खाद्य पदार्थों की नमूना लेकर प्रयोग शाला प्रेषित किया गया है।

दुग्ध उत्पादों के नमूने मानक स्तर के न होने पर नोटिस जारी : दुध एवं दुग्ध उत्पादों की जांच हेतु चलाए जा रहे विशेष अभियान के अंतर्गत लिए गए नमूनों में से 04 नमूनों की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई है। जिनमे से विगत 21 जुलाई को अम्बर डेरी एंड डेली नीड्स कटंगी रोड सिवनी एवं चौरसिया दूध डेरी बरघाट रोड सिवनी से लिये गाय के दूध के नमूने पानी की मिलावट के कारण अवमानक पाए गए है।

इसके साथ ही शिव प्रसाद साहू लखनादौन से लिया गया घी का नमूना अवमानक पाया गया है। इसी तरह 23 जुलाई को महावीर डेरी भैरोगंज सिवनी से लिया गया घी का नमूना मानक स्तर का पाया गया है। अवमानक नमूनों के सम्बंध में सम्बन्धितों को धारा 46 (4) के अंतर्गत जांच रिपोर्ट के विरुद्ध अपील हेतु नोटिस जारी किए जाकर समय दिया गया है, नोटिस अवधि उपरांत न्यायालयीन कार्यवाही की जावेगी।