हुआ शिक्षक सम्मान कार्यक्रम का आयोजन

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। शिक्षक दिवस के उपलक्ष्य में जिले के शिक्षकों के सम्मान हेतु स्थानीय मिशन हायर सेकेण्डरी स्कूल सिवनी के सभाकक्ष में जिला स्तरीय शिक्षक सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। इसमें कलेक्टर प्रवीण सिंह एवं पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक मुख्य अतिथि के रूप मे शामिल हुए।

सरकारी विज्ञप्ति के अनुसार कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि एवं उपस्थित गणमान्य शिक्षकों के द्वारा सरस्वती देवी एवं डॉ.सर्वपल्ली राधाकृष्णन के छायाचित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। रिटायर्ड शिक्षक नारायण सिंह सनोडिया के द्वारा सरस्वती देवी का स्वरवादन किया गया।

कलेक्टर प्रवीण सिंह द्वारा अपने उद्बोधन में बताया गया कि शिक्षकों की प्रेरणा एवं मार्गदर्शन से ही आज उन्हें यह पद प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि उनके पिता भी एक शासकीय शिक्षक थे और उन्होंने भी शासकीय विद्यालय में ही अध्ययन किया है। संभागायुक्त के आव्हान पर जिले के शिक्षकों द्वारा मेरी शाला मेरी जिम्मेदारी कार्यक्रम अंतर्गत शिक्षकों द्वारा जिले में आगे आकर बेहतर कार्य किया जा रहा है, जिसके लिये शिक्षक बधाई के पात्र हैं।

उन्होंने शिक्षकों से अपील की है कि सभी शिक्षक अपने कर्त्तव्यों का पालन करते हुए बच्चों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा दें जिससे बच्चों का उज्ज्वल भविष्य होने के साथ जिला शिक्षा अग्रणी स्थान प्राप्त कर सकेगा।

पुलिस अधीक्षक द्वारा कहा गया कि सभी शिक्षक सम्मानीय हैं, उनकी प्रेरणा से बच्चे अपने भविष्य का निर्माण करते हैं। एक शिक्षक बच्चों का प्रेरक एवं मार्गदर्शक होता है। अच्छी शिक्षा देकर वो बच्चों का उज्ज्वल भविष्य बनाता है।

जिला शिक्षा अधिकारी जी.एस. बघेल द्वारा कहा गया कि जिले के शिक्षक अपना अच्छा कार्य कर रहे हैं एवं उनके द्वारा किये गये कार्य से ही जिला दक्षता उन्नयन में राज्य स्तर पर चौथे स्थान पर आया है। भविष्य में भी जिले के सभी शिक्षक मिल कर बच्चों के भविष्य निर्माण के लिये अपना सर्वज्ञ प्रदान करेंगे। कार्यक्रम में राष्ट्रपति पुरूस्कार प्राप्त शिक्षक छिद्दी लाल श्रीवास, जवाहर लाल राय, कामता सिंह बघेल, शशिकान्त नेमा की गरिमामय उपस्थिति रही।

शिक्षकों का किया गया सम्मान : शिक्षक दिवस के अवसर पर दक्षता उन्नयन में श्रेष्ठ प्रदर्शन कर गोल्ड पदक प्राप्त जिले के 43 प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालयों के संस्था प्रमुखों को प्रशस्ति पत्र एवं श्रीफल से सम्मानित किया गया। शिक्षा के विभिन्न क्षेत्रों में उनके द्वारा किये गये उत्कृष्ट कार्य करने वाले कुल 109 शिक्षकों को प्रशस्ति पत्र एवं श्रीफल से सम्मानित किया गया।

इसके साथ ही जिले में संचालित छात्रावासों के कुशल संचालन हेतु 17 छात्रावास अधीक्षकों को भी सम्मानित किया गया। इस अवसर पर क्रीड़ा शिक्षक संदीप मिश्रा द्वारा मंच संचालन किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *