वर्क बुक जाँचने में लापरवाही पर होगी कार्यवाही

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जिले के सरकारी स्कूलों में निरीक्षण के दौरान डीपीसी, बीआरसी, जनशिक्षकों ने पाया कि वर्क बुक को सही तरीके से जाँचा नहीं गया है। इससे विद्यार्थियों की कमियां सामने नहीं आ पाती हैं।

अब वर्क बुक जाँचने में लापरवाही बरतने पर शिक्षक ही नहीं जनशिक्षक व बीआरसी पर भी कार्यवाही हो सकती है। स्कूली विद्यार्थी की वर्क बुक को लेकर राज्य शिक्षा केंद्र ने कड़े निर्देश जारी किये हैं। राज्य शिक्षा केंद्र संचालक ने बीआरसी, जनशिक्षक व शिक्षकों को हिदायत दी है कि वर्क बुक व कापियों के जाँचने में किसी भी तरह की लापरवाही सामने आती है तो सभी कार्यवाही के लिये तैयार रहें। सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले जिन विद्यार्थियों की दक्षताएं उनकी कक्षा के अनुरुप नहीं हैं ऐसे विद्यार्थियों के लिये राज्य शिक्षा केंद्र द्वारा सभी स्कूलों में दक्षता उन्नयन कार्यक्रम चलाया जा रहा है।

कार्यक्रम के और अधिक सार्थक परिणाम लाने के लिये बूस्टर डोज दी गयी है ताकि संबंधित स्कूलों में बेहतर ढंग से दक्षता उन्नयन से संबंधित विषय पर कार्य हो सके। राज्य शिक्षा केंद्र की संचालक आईरीन सिंथिया जेपी ने पूर्व में ही निर्देश देकर कहा है कि बीआरसी व जनशिक्षक जिन भी स्कूल का भ्रमण करेंगे उनकी नियमित रिपोर्ट भेजनी है। निरीक्षण के दौरान यह भी देखने को कहा है कि विद्यार्थियों में पाठ्य पुस्तक वितरित की गयी है कि नहीं। सितंबर में निर्धारित पाठ्यक्रम पूरा किया गया है या नहीं।

कमी पाये जाने पर कार्यवाही : शिक्षकों की कमी की स्थिति में सुझाये गये विकल्पों को अपनाया गया है या नहीं। साथ ही बच्चों में शैक्षणिक गुणवत्ता का आंकलन करने को कहा गयाा है। कमी पाये जाने पर तत्काल नियम अनुसार कार्यवाही की प्रक्रिया आरंभ करने को कहा है। किसी भी स्थिति में किसी की लापरवाही बर्दाश्त नहीं किये जाने की बात कही गयी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *