मछली पालन से मिल सकता है रोजगार : अर्चना

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। शासकीय कन्या महाविद्यालय में स्वामी विवेकानंद कैरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ के अंतर्गत मत्स्य पालन का प्रशिक्षण बीएससी की छात्राओं को दिया गया।

इस अवसर पर सर्वप्रथम माँ सरस्वती का पूजन का आयोजन किया गया। कैरियर प्रभारी डॉ.अर्चना चंदेल द्वारा विभाग के सहायक अधिकारी संजय अम्बोलीकर द्वारा विस्तार से जानकारी दी गयी। उन्होंने बताया कि इस कार्य के लिये तालाब की रचना की जानकारी होना चाहिये। विश्व में भारत का दूसरा स्थान मछली पालन में माना जाता है। भारत में सबसे अधिक लोगों का जीवन इस कार्य में लगा हुआ है। मछली के अनेक प्रकार होते है जिसमें रोहू, कतला और मृगल आदि शामिल हैं।

उन्होंने बताया कि इस व्यवसाय से अच्छी आय प्राप्त की जा सकती है। कार्यक्रम का संचालन अनीता कुल्हाड़े ने एवं आभार प्रदर्शन हेमराज नागवंशी ने किया। सहयोगी के रूप में अर्पणा अवस्थी, श्रीमति भट्ट, सकीना खान, फिरदौस खान, सोनाली जैसवाल सहित अनेक लोग शामिल थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *