कॉलेज परिसर से पकड़ा रसेल वाइपर

 

(ब्यूरो कार्यालय)

छपारा (साई)। नगर के लाल माटी क्षेत्र स्थित एक निजि कॉलेज के प्रांगण में रसेल वाइपर सांप निकला। इससे कॉलेज में हड़कंप मच गयी।

कॉलेज प्रबंधक ने सांप की सूचना वन परिक्षेत्र कार्यालय छपारा को दी। इसके बाद रेस्क्यू टीम में वन रक्षक निरंजन मर्सकोले मनीष चौधरी, चौकीदार सहयोगी नैनसुख यादव पहुँचे जिन्होंने खतरनाक रसेल वाइपर सांप को रेस्क्यू कर पकड़ा। इसे जंगल में ले जाकर छोड़ा गया है।

रेंजर माधव राव उइके ने कहा कि यदि एक मकान में सांप दिखते हैं तो तत्काल कार्यालय में आकर सूचना दें जिन्हें पकड़कर जंगल में छोड़ा जायेगा। बीते एक साल में 200 से ज्यादा सांप वन परिक्षेत्र छपारा की रेस्क्यू टीम ने पकड़े हैं। घरों व खेत खलिहान से पकड़े गये जहरीले सांपों को जंगल में सुरक्षित छोड़ा गया है। जंगल के पास व हरियाली वाले आबादी क्षेत्रों के घरों में सांप ज्यादा पहुँचते हैं।

बारिश के मौसम में सांप अपनी सुरक्षा के लिये घरों की तरफ रुख करते हैं। कारण यह है कि उनको सर्दी से बचने के लिये थोड़े गर्म वातावरण की जरूरत होती है। सर्प विशेषज्ञ के अनुसार रसेल (पर्रामन) जहरीला सांप होता है। इसके काटने से खून की नसिकाएं जगह – जगह पंक्चर हो जाती है। सबसे पहले इसका असर नाजूक अंगों किडनी, हार्ट व फेफड़े की खून की नलियों पर पड़ता है।

30 thoughts on “कॉलेज परिसर से पकड़ा रसेल वाइपर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *