दीवारें तो रंग गयीं पर नहीं हटा कचरा!

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। स्वच्छता सर्वेक्षण 2020 की तैयारियों में लगी नगर पालिका सरकारी भवनों की दीवारों को स्वच्छता संदेशों से रंग रही है। स्वच्छता के अभियान में भले ही नगर पालिका शहर की दीवारों को चित्रों व संदेशों से रंगीन कर रही हो लेकिन शहर की सड़कें अब भी कचरे के ढेर से अटी पड़ी हैं।

बेहतर रैंक लाने नगर पालिका स्वच्छता मुहिम तो चला रही है लेकिन नगर के कई वार्डों में अब भी सफाई व्यवस्था दुरुस्त नहीं हो सकी है। कहने को नगर पालिका में कर्मचारियों की बड़ी फौज सफाई व्यवस्था को बरकरार रखने काम कर रही है फिर भी जगह – जगह लगे कचरे के ढेर सड़क में लगे हुए है। शहर की चोक नालियों की भी सफाई नहीं हो रही है। इससे क्षेत्र वासियों में नाराजगी बनी हुई है।

मोगली, बगीरा दे रहे स्वच्छता का संदेश : कलेक्ट्रेट के भवनों की दीवार के साथ ही साथ बाउंड्रीवाल में नगर पालिका परिषद द्वारा जिले को देश विदेश तक पहचान देने वाले मोगली और बगीरा, भालू के साथ ही साथ सफाई करते हुए बच्चों की वाल पेटिंग कर लोगों को स्वच्छता का संदेश दिया गया है ताकि शहर को स्वच्छ बनाया जा सके। इससे बारिश के पानी से खराब हुई दीवार में चमक आ गयी है। वहीं दूसरी तरफ लोगों को आकर्षित करते हुए जागरूकता भी फैला रही है।

सबकी भागीदारी आवश्यक : केंद्र सरकार की मुहिम के बाद दुकानदारों व आमजनों ने लोगों ने सिंगल यूज पॉलीथिन का उपयोग बंद कर दिया है। इसी जगह कपड़े व कागज से बने थैलों का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसी तर्ज पर शहर को स्वच्छ बनाने में सभी भागीदार बने इसकी मुहिम प्रचार प्रसार के जरिये चलायी जा रही है। स्वच्छता संदेश के जरिये शहर के दुकानदार, व्यापारी, समाजसेवी संगठन, गैरेज संचालक, वाहन संचालकों, फुटपाथ व्यवसायी, ठेला संचालकों व आमजनों को सफाई के प्रति जागरुक किया जा रहा है।