पारे ने लगाया गोता, 16 डिग्री पर पहुँचा तापमान

 

 

 

उत्तरी हवाओं से बढ़ सकती है ठण्ड,

(महेश रावलानी)

सिवनी (साई)। शरद पूर्णिमा की रात इस साल के सर्द सीजन की पहली सबसे सर्द रात रही। रविवार और सोमवार की दमियानी रात में पारे ने जमकर गोता लगाया। रात का तापमान 16.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। रात का अधिकतम तापमान 19 डिग्री सेल्सियस रहा, जबकि दिन में भगवान भास्कर अपना कहर बरपा रहे हैं। दिन में अधिकतम तापमान 31.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

दशहरे के बाद से हवाएं उत्तर दिशा से आने लगी हैं जिसके कारण ठण्ड की संभावना भी बढ़ गयी है। दीपावली के बाद ठण्ड अपना असर दिखाने लगेगी। हालांकि अभी भी धीरे – धीरे तापमान नीचे की ओर सरक रहा है जिसके कारण रात में ठण्ड बढ़ने लगी है। मौसम विभाग का कहना है कि उत्तरी हवाओं की रफ्तार यदि थोड़ी भी बढ़ती है तो ठण्ड अपने पूरे शवाब पर आ जायेगी।

फिलहाल तीन चार दिनों से पारा धीरे – धीरे नीचे जाने लगा है। रात के साथ दिन का तापमान भी घट गया है। हालांकि दिन में अभी धूप में थोड़ी तल्खी बरकरार है, लेकिन ठण्ड का एहसास शाम से ही होने लगा है। रात बढ़ने के साथ ही ठण्ड भी बढ़ने लगती है।

हालांकि सुबह के समय अभी हल्की ओस ही गिर रही है। इस वजह से मौसम में नमी नहीं बढ़ पायी है, जैसे ही ओस और कोहरे की मात्रा बढ़ेगी नमी के साथ ठण्ड भी बढ़ने लगेगी। मौसम विभाग के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि मौसम बदलने के बाद अब प्रदेश में सर्द हवाओं से ठण्ड का रास्ता साफ हो गया। बारिश के बाद अब सुबह – शाम हल्की सर्द हवाओं के कारण ठण्ड का स्पष्ट अहसास होने लगा है। मौसम विभाग ने मॉनसून में परिवर्तन के संकेत दे दिये हैं।

मौसम विभाग द्वारा जारी बुलेटिन के अनुसार मौसम अब पूरी तरह सामान्य हो चुका है। अब मौसम साफ रहेगा। मौसम विभाग के सूत्रों के मुताबिक इस बार सर्द हवाओं के चलने से एक पखवाड़े के बाद ठण्ड और कोहरा का दौर आरंभ हो जायेगा।

तापमान में उतार – चढ़ाव : पिछले कुछ दिनों से मौसम का मिजाज अजीबो गरीब बना हुआ है। दिन में तेज धूप की वजह से गर्मी और रात में गुलाबी ठण्ड का एहसास होने से अब ठण्ड की शुरूआत हो गयी है। रात का तापमान 20 डिग्री सेल्सियस से नीचे तक पहुँच गया है। तापमान में उतार – चढ़ाव के कारण लोगों की सेहत बिगड़ रही है जिससे ज्यादातर लोग जुकाम, बुखार, सर्दी व खांसी की चपेट में हैु।

वहीं सुबह और शाम के समय गुलाबी ठण्ड आरंभ होने से इस बार सर्दी कितनी पड़ेगी ये कह पाना मुश्किल है। हालांकि मौसम विभाग के सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि इस बार दो माह में बारिश अधिक होने के चलते और पूर्व से चलने वाली सर्द हवाओं से नमी बढ़ी है।

रात का तापमान 20 डिग्री से नीचे : अमूमन शीत ऋतु का आगमन शरद पूर्णिमा के साथ माना जाता है, लेकिन इस वर्ष एक सप्ताह पहले से असर दिखने लगा है। सुबह – शाम के वक्त गुलाबी सर्दी महसूस हो रही है। शहर में सोमवार को दिन में अधिकतम तापमान 31.4 डिग्री सेल्सियस तो इसके पहले चौबीस घण्टों में न्यूनतम तापमान 16.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

मौसम के पूर्वानुमान के हिसाब से सूत्रों ने बताया कि मौसम बदलने से हल्की ठण्ड आरंभ हो गयी है। इस बार कड़ाके की ठण्ड पड़ेगी। कुछ दिनों से सुबह से हल्की धूप और मौसम में ठण्डक महसूस की जा रही। रात के तापमान में भी गिरावट आयी है। अनुमान ये भी लगाया जा रहा है कि ठण्ड अधिक पड़ने से गेहूँ की पैदावर अच्छी होगी, लेकिन कोहरा पड़ने के कारण किसानों को भारी नुकसान हो सकता है।