घीसी केकड़ई मार्ग हुआ बुरी तरह जर्जर

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। घीसी से केकड़ई मार्ग पर बड़वाले नाले पर 12 लाख रुपये की लागत से बनायी गयी पुलिया में मिट्टी का कटाव होने से इस मार्ग पर आवागमन बाधित हो गया है।

हालांकि दोपहिया वाहन पुलिया से आवागमन कर रहे हैं, लेकिन बड़े वाहन पुलिया से नहीं निकल पा रहे हैं। ग्रामीणों ने बताया कि फेसवॉल की लंबाई कम होने व पुलिया के आधे हिस्से में कंक्रीटीकरण न होने के कारण तेज बारिश में पुलिया के दोनों छोर पर डाली गयी मुरम बाढ़ के पानी में बह गयी है।

तीन मार्च को हुआ था पुलिया का निर्माण आरंभ : मिट्टी व मुरम का कटाव होने से क्षतिग्रस्त पुलिया पर आवागमन बाधित हो रहा है। वहीं दुर्घटना की संभावना बढ़ गयी है। ग्राम पंचायत ने इसी वित्तीय वर्ष में महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना से पुलिया का निर्माण कराया है। 12 लाख रुपये की इस पुलिया पर लगभग 10 लाख रुपये खर्च किए जा चुके हैं। पुलिया के लिये स्वीकृत राशि में 09 लाख रुपये मनरेगा योजना व तीन लाख रुपये सांसद निधि से ग्राम पंचायत घीसी को दिये गये हैं। इसी वर्ष 03 मार्च को पुलिया का निर्माण पंचायत ने आरंभ कराया गया था।

आधे हिस्से में कराया कांक्रीटीकरण : लगभग 80 फीट लंबी पुलिया में चार रो में पाइप डाले गये हैं। पाइप के ऊपरी हिस्से में लगभग 40 फीट में ही कांक्रीटीकरण, पंचायत ने कराया है, जबकि शेष हिस्से में मुरमीकरण करवा दिया गया है। दोनों फेसवॉल की लंबाई कम होने से तेज बारिश के दौरान बाढ़ का पानी पुलिया के ऊपर से बहने लगता है जिससे पुलिया को क्षति हो रही है। ग्रामीणों का कहना है कि फेस वॉल की लंबाई बढ़ाने के साथ ही पुलिया की ऊपरी सतह के दोनों ओर कांक्रीटीकरण कराया जाये ताकि भविष्य में तेज बारिश के दौरान पुलिया को क्षतिग्रस्त होने से बचाया जा सके।