बारिश में बिछ गयीं फसलें!

 

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। जिले में शुक्रवार से मौसम में परिवर्तन हुआ है। बारिश के कारण खेतों में काटकर रखी गयी फसल भीग रही है। वहीं धान की फसल जो पककर तैयार है उसे भी नुकसान पहुँचने की आशंका है।

जिले में रविवार को भारी बारिश के कारण मक्का व धान की फसल को नुकसान पहुँचा है। रात लगभग 02 बजे से जिला मुख्यालय सहित ग्रामीण क्षेत्रों में आरंभ हुई बारिश रविवार दोपहर होते – होते ही थमी।

बारिश व हवा से बरघाट व कुरई क्षेत्र में धान की खड़ी फसल खेतों में बिछ गयीं। छपारा, लखनादौन, घंसौर, धनौरा में मक्के की फसल भीग गयी है। खेतों में काटकर रखी धान, मक्का, सोयाबीन, उड़द की फसल के भीगने से खराब होने की आशंका है। खेत व खलिहानों में किसानों द्वारा सुखाने के लिये रखा गया मक्का भी भीगने से खराब हो गया है।

शनिवार शाम आरंभ हुई बारिश रविवार को भी पूरे दिन जारी रही। बारिश ने किसानों को चिंता में डाल दिया है। किसानों का धान कट चुका है और जो फसल खड़ी है वो भी कटने को तैयार है। कटकर खेत में रखा धान खराब होने की आशंका है जबकि नर्सरी लगाने के बाद रोपा लगाकर बोया गया धान अभी खेत में खड़ा है और उसके लिये पानी फायदेमंद बताया गया है। कटकर खेतों में रखा सोयाबीन पानी की वजह से खराब होने की आशंका है।