पूर्व भाजपा विधायक पर पुत्री ने लगाया 10 साल तक बंधक बनाकर रखने का आरोप

 

 

 

 

(ब्‍यूरो कार्यालय)

जबलपुर (साई)। मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में एक याचिका के जरिए भोपाल से भाजपा के पूर्व विधायक सुरेन्द्रनाथ सिंह की पुत्री भारती से सुरक्षा की गुहार लगाई है।

उसका आरोप है कि उसके पिता ने उसे 10 साल तक बंधक बनाकर रखा। उसे भोपाल के हजेला अस्पताल में बेहोशी का इंजेक्शन दिया जाता है। साथ ही विवाह के लिए दबाव बनाया जा रहा है, जबकि वह विवाह नहीं करना चाहती।

याचिकाकर्ता की ओर से अधिवक्ता अंकित सक्सेना पैरवी करेंगे। उन्होंने बताया कि पूर्व विधायक सुरेन्द्र नाथ सिंह भोपाल भाजपा के जिला अध्यक्ष रह चुके हैं। उनकी बेटी याचिकाकर्ता भारती का आरोप है कि उसके पिता ने उसे भोपाल के हजेला अस्पताल में जबरन बंधक बना रखा है। उसे बेहोशी का इंजेक्शन देने के अलावा कई तरह से प्रताड़ित किया जाता है।

इस बारे में सीएम हेल्पलाइन में शिकायत की गई, लेकिन अब तक कोई नतीजा नहीं निकला। इसीलिए याचिका दायर की गई, जिसमें पूर्व भाजपा विधायक सुरेन्द्र नाथ सिंह के अलावा राज्य शासन, एसपी भोपाल, पुलिस थाना कमला नेहरू नगर के टीआई सहित अन्य को पक्षकार बनाया गया है।

पुणे से झूठ बोल कर बुलाया- याचिकाकर्ता का कहना है कि परिवार की निरंतर प्रताड़ना से तंग आकर 2018 में वह किसी तरह कैद से आजाद हुई और पुणे, महाराष्ट्र चली गई। वहां फिटनेस ट्रेनर का कार्य कर रही थी। पिता से पिछले सप्ताह मां के गंभीर रूप से बीमार होने की झूठी जानकारी देकर पुणे से भोपाल बुलवा लिया। अब एक भाजपा विधायक के बेटे के साथ विवाह करने दबाव बना रहे हैं। याचिकाकर्ता को मानसिक रूप से बीमार करार देकर अस्पताल में रखा गया है। जबकि हकीकत यह है कि वह पूरी तरह स्वस्थ है।

.भोपाल में रिपोर्ट दर्ज- अधिवक्ता सक्सेना ने बताया कि शुक्रवार शाम तीन बजे भारती भोपाल से चुपचाप जबलपुर रवाना हुई। रात दस बजे वह जबलपुर आई। शनिवार को उनके जरिए भारती ने याचिका दायर कराई। सक्सेना ने बताया कि उसकी यात्रा की टिकिट भी उन्होंने याचिका में संलग्न की हैं। उधर पूर्व विधायक सुरेन्द्र नाथ सिंह की ओर से बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट कमला नेहरू नगर थाने में दर्ज कराए जाने की सूचना मिली है। सोमवार को हाईकोर्ट में याचिका की सुनवाई संभावित है।