फोरलेन के लिये अधिग्रहित जमीन का कम मुआवजा मिलने से आक्रोश

 

(ब्यूरो कार्यालय)

कुरई (साई)। मोहगाँव से खवासा तक फोरलेन निर्माण के तहत सड़क चौड़ीकरण के लिये जमीन का अधिग्रहण किया जा रहा है। अधिग्रहित जमीन का गलत मूल्यांकन कर कम राशि का भुगतान किये जाने के आरोप भूमि स्वामियों ने लगाये हैं।

गुरुवार को स्थानीय विश्राम गृह में भू स्वामियों की बैठक आयोजित की गयी। इसमें समस्या का निराकरण नहीं होने की स्थिति में कोर्ट की शरण में जाने का निर्णय लिया गया।

बैठक में मौजूद ओम जायसवाल, अनवर खान, ईश्वर डहरवाल, गौरव अग्रवाल, मुश्ताक खान, अनीस खान, शुभम अग्रवाल, संतोष पांडेय, यूसुफ खान, मुकेश तिवारी, विनोद सिंह, रियाज खान, दयाशंकर, अजीम खान और अरशद खान सहित अन्य भूमि स्वामियों का कहना है कि अधिग्रहित भूमि के मुआवजे का मूल्यांकन काफी कम किया गया है।

उन्होंने कहा कि इसके साथ ही कितनी भूमि अधिग्रहित की जायेगी व मकान, पान ठेले व अन्य दुकान तोड़े जाने पर किस दर से मुआवजा दिया जायेगा इसकी जानकारी कोई नहीं दे रहा है। भू स्वामियों का कहना है कि क्षेत्रीय जन प्रतिनिधि भी इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं। इससे क्षेत्रवासियों में आक्रोश व्याप्त है।