प्रशासनिक मुखिया ने लिखी पेंच पर किताब!

 

 

द थर्ड आई व्यू पेंच नेशनल पार्क नामक किताब लिखी एसआर मोहंती ने

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। घूमंतु ब्रितानी पत्रकार रूडयार्ड क्पिलिंग के मशहूर उपन्यास द जंगल बुक के मुख्य किरदार भेड़िया बालक मोगली की कथित कर्मभूमि पेंच नेशनल पार्क जल्द ही एक बार फिर चर्चाओं में आने वाली है। इसका कारण यह है कि प्रदेश के प्रशासनिक मुखिया सुधीर रंजन मोहंती ने पेंच नेशनल पार्क पर एक किताब लिखी है।

प्रदेश के मुख्य सचिव कार्यालय के उच्च पदस्थ सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि मुख्य सचिव एस.आर. मोहंती ने अपने पुत्र आदित्य मोहंती के आग्रह पर यह किताब लिखी है। कम ही लोग जानते होंगे कि प्रदेश के प्रशासनिक मुख्यिा एस.आर. मोहंती को फोटोग्राफी का शौक भी है।

देश के प्रमुख राष्ट्रीय उद्यानों में पेंच का शुमार है। यह सिवनी और छिंदवाड़ा जिले की सीमा पर स्थित है, पर इसका ज्यादा हिस्सा सिवनी जिले में होने के कारण सिवनी के नाम पर ही पेंच नेशनल पार्क को पहचाना जाता है। पेंच के भ्रमण के दौरान मुख्य सचिव के द्वारा वन्य जीवन के अनेक चित्रों को अपने कैमरे में कैद किया गया था।

सूत्रों ने बताया कि द थर्ड आई व्यू पेंच नेशनल पार्क नामक अंग्रेजी में लिखी गयी इस किताब में उन्होंने फोटोग्राफी के सहारे पेंच राष्ट्रीय उद्यान की अनदेखी तस्वीरें क्लिक की हैं और उन तस्वीरों के बारे में रोचक जानकारियां भी दी हैं। इस किताब में मुख्य सचिव ने पेंच राष्ट्रीय उद्यान की अनदेखी तस्वीरें साझा की हैं और उनके बारे में रोचक जानकारियां दी गयी हैं। मुख्य सचिव ने लिखा है कि पेंच राष्ट्रीय उद्यान 757.90 स्क्वॅयर किलो मीटर में फैला है। पेंच राष्ट्रीय उद्यान मध्य प्रदेश और महाराष्ट्र की सीमा तक फैला हुआ है।

इस किताब में मुख्य सचिव सुधीर रंजन मोहंती ने लिखा है कि पेंच राष्ट्रीय उद्यान वनीय सुंदरता का प्रतीक है और यह अद्भुत जानवरों का घर है। ये किताब फोटोग्राफी का एक संकलन है। उन्होंने बताया कि उनके बेटे आदित्य ने उन्हें ये किताब लिखने के लिये प्रेरित किया, जिसके बाद मैंने इस किताब को प्रकाशित किया है।

हैं बाघ के दुर्लभ छायाचित्र : इस किताब में बाघ के रेयर फोटोज़ हैं। अपनी फोटोग्राफी के जरिये मुख्य सचिव ने बाघ के सभी मूवमेंट्स को क्लिक किया है।

वाईल्ड लाईफ फोटोग्राफी के शौकीन हैं मुख्य सचिव : सूत्रों ने बताया कि मुख्य सचिव एस.आर. मोहंती वाईल्ड लाईफ फोटोग्राफी के शौकीन हैं। इस किताब में दिखायी गयी सभी फोटो मुख्य सचिव एस.आर. मोहंती के द्वारा खींची गयी हैं। उन्होंने अपनी किताब में लिखा है कि जब वे 1984 में कान्हा नेशनल पार्क के पास पदस्थ थे तब उन्हें वाईल्ड फोटोग्राफी से प्यार हो गया था। उन्होंने बताया कि यहाँ की सुंदरता को उन्होंने अपने कैमरे में कैद कर लिय़ा था।