किसी के भी अवैध होर्डिंग, बैनर-पोस्टर हों, सात दिन के अंदर हटाएं

 

 

 

 

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। शहरों की सुंदरता में दाग लगाने वाले अवैध होर्डिंग, कटआउट, गेंट्री, बैनर-पोस्टर सात दिन के अंदर हटाए जाएंगे। फिर चाहे वे मुख्यमंत्री, मंत्री, अन्य नेता आदि के स्वागत, धार्मिक, सामाजिक संस्था या किसी भी आयोजन के हों। ये निर्देश मुख्य सचिव एसआर मोहंती ने सभी संभागायुक्तों और कलेक्टरों को दिए हैं।

नेताओं के जन्मदिन, आगमन पर स्वागत व अभिनंदन के विज्ञापनों पर रोक लगाने के लिए कैबिनेट ने आउटडोर विज्ञापन नियम-2017 और संपत्ति विरूपण अधिनियम-1994 के प्रावधानों को और कड़ा करते हुए उसका पालन करने की मंजूरी दी है। शासन के संज्ञान में आया था कि इस तरह के विज्ञापन नियमों का उल्लंघन करते हुए अवैध रूप से लगाए जा रहे हैं, जो ट्रैफिक में बाधा के साथ शहर के सौंदर्य को प्रभावित कर रहे हैं।

इसे देखते हुए संभागायुक्तों, कलेक्टरों, नगर निगम आयुक्तों को सामान्य प्रशासन की ओर से दिशा निर्देश जारी करने का प्रस्ताव कैबिनेट में लाया गया था, जिसे स्वीकृति मिली है। इसमें कलेक्टर से आउटडोर विज्ञापन के लिए अनुमति लेना होगी। उन्हें जुर्माना करने के अधिकार दिए गए हैं। कोई भी विज्ञापन बिना अनुमति के नहीं लग सकेंगे।

यदि ऐसा कोई विज्ञापन लगता है तो संबंधित नगरीय निकाय के अधिकारी-कर्मचारी उसे हटाएंगे। इसमें लापरवाही बरतने पर उनके खिलाफ कार्यवाही होगी। कलेक्टर ट्रैफिक व शहर के सौंदर्य को प्रभावित करने वाले होर्डिंग, बैनर-पोस्टर के बारे में जनप्रतिनिधियों व प्रबुद्धजन से चर्चा भी करेंगे और उन्हें इसके नियमों की जानकारी देंगे। इन्हीं प्रावधानों के तहत कार्यवाही के लिए सीएस ने पत्र लिखकर निर्देश दिए हैं। साथ ही चेतावनी दी है कि इस कार्यवाही के लिए अधिकारी व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार होंगे।