खून के आंसू रूलाने लगी प्याज

 

 

सब्जियों का जायका बिगाड़ रही प्याज की दरें!

(वाणिज्य ब्यूरो)

सिवनी (साई)। अतिवृष्टि का असर अन्य फसलों के साथ ही साथ प्याज पर भी जमकर पड़ा है। प्याज की आवक कम होने के कारण प्याज की दरों में जबर्दस्त उछाल दर्ज किया गया है।

व्यापार जगत से जुड़े लोगों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि इस समय प्याज की खुदरा दरें सत्तर से अस्सी रूपये प्रति किलो चल रही हैं। इसके दो ही मुख्य कारण व्यापार जगत से जुड़े लोगों ने बताये हैं। अव्वल तो अतिवृष्टि का असर प्याज की फसल पर पड़ा है और दूसरा प्याज का निर्यात फिर से आरंभ होना हो सकता है।

बताया जाता है कि थोक में प्याज 50 से 60 रुपये किलो तक पहुँच गया है। खुदरा बाज़ार में प्याज 80 रुपये किलो तक बिक गया। महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और राजस्थान में भी पैदावार कम होने से आवक नहीं हैं। प्याज की बढ़ी दरों के चलते अब होटल्स में भी खाने के साथ प्याज देने में संचालक आनाकानी करते दिख रहे हैं।

व्यापारिक सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि इस बार बरसाती सीजन में प्याज की आवक कम ही हुई है। इधर रबी सीजन में बोयी गयी फसल अगले साल तक आने के चलते भाव में तेजी आ गयी है।