ज्वलनशील पदार्थ के टैंकर में लगी आग!

 

 

तीन घण्टे लगा रहा लंबा जाम, दूर से दिखता रहा काला धुंआ

(ब्यूरो कार्यालय)

लखनादौन (साई)। बुधवार को लखनादौन से छपारा के बीच फोरलेन पर सुबह, ज्वलनशील पदार्थ लेकर जा रहा टैंकर पलट गया, जिससे उसमें आग लग गयी। टैंकर पलटने के कारण लगभग तीन घण्टे तक यातायात बाधित रहा।

धंू-धूं कर जला टैंकर, दूर तक दिख रहा था काला धुंआ : लखनादौन से सिवनी फोरलेन पर सजहपुरी के पास पेट्रोल डीज़ल ले जा रहे एक टैंकर के पलट जाने के उपरांत उसमें आग लग गयी। देखते ही देखते इस आग ने विकराल रूप धारण कर लिया। इसे देखते हुए ऐहतियात के तौर पर यातायात को रोक दिया गया।

इस बात की सूचना मिलते ही प्रशासन मौके पर पहुँचा और लगभग तीन घण्टे की भारी मशक्कत के बाद फोरलेन पर यातायात को सुचारू बनाया जा सका।

लांजी जा रहा था टैंकर : लखनादौन पुलिस सूत्रों ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया को बताया कि शहपुरा भिटौनी जबलपुर से इंडियन ऑईल का टैंकर क्रमाँक एमपी 20 5020 छः हजार लीटर डीज़ल और छः हजार लीटर पेट्रोल भरकर बालाघाट जिले के लांजी जाने के लिये बुधवार को पौ फटते ही निकला था, वह जैसे ही लखनादौन विकास खण्ड के अंतर्गत आने वाले ग्राम गनेशगंज के समीप पहुँचा, वैसे ही यह टैंकर एकाएक पलट गया और उसमें आग लग गयी।

तीन घण्टे तक लगा रहा जाम : गनेशगंज के समीप फोरलेन पर 12 हजार लीटर डीज़ल – पेट्रोल से भरा टैंकर पलटने का कारण, टैंकर चालक अर्जुन (25) पिता सुग्रीव यादव निवासी रीवा ने क्लिच प्लेट जाम होना बताया है जिसके कारण टैंकर पलट गया। टैंकर में भरा हुआ डीज़ल – पेट्रोल सड़क पर बहने लगा और उसमें आग लग गयी। यह आग लगातार बढ़ती रही।

घटना की सूचना मिलने पर आग बुझाने के लिये सिवनी और लखनादौन से दमकल वाहन मौके पर पहुँचे और आग बुझाने में जुट गये। लगभग तीन घण्टे की कड़ी मशक्कत के बाद कहीं जाकर आग पर काबू पाया जा सका लेकिन तब तक पूरा टैंकर जलकर खाक हो चुका था।

अस्पताल पहुँचाये गये कंडॅक्टर – ड्राईवर : घटना के दौरान टैंकर में सवार चालक अर्जुन और परिचालक प्रद्युम्न (20) पिता मुन्ना लाल यादव निवासी रीवा ने किसी तरह कूदकर अपनी जान बचायी और वे जंगल की ओर भाग गये। प्रशासन एवं पुलिस अमला जैसे ही दुर्घटना स्थल पर पहुँचा चालक – परिचालक उनके समीप आ गये और हादसे के संबंध में बताया। इस दौरान चालक – परिचालक को हल्की चोटें भी आयी है जिन्हें लखनादौन चिकित्सालय पहुँचाया गया।

मौके पर पहुँचे कलेक्टर एसपी : घटना की सूचना लगते ही जिला कलेक्टर प्रवीण सिंह अढ़ायच, पुलिस अधीक्षक कुमार प्रतीक, लखनादौन एसडीएम अंकुर मेश्राम, एसडीओपी अरविंद श्रीवास्तव एवं लखनादौन थाना प्रभारी महादेव नागोतिया दल-बल के साथ मौके पर पहुँचे और अप्रिय घटना न हो सके, इसके लिये उनके द्वारा हर संभव प्रयास किये गये। इस दौरान दुर्घटना स्थल के दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गयी थी, जिसे आग बुझाने के बाद इस मार्ग पर पुनः यातायात को सुचारू रूप से आरंभ करवाया गया।