सड़कें होंगी चौड़ी, नहीं बख्शेंगे किसी को : कलेक्टर

जनता के लिये हो रही कार्यवाही में जनता का सहयोग सराहनीय
(अय्यूब कुरैशी)
सिवनी (साई)। शहर में अतिक्रमण एक समस्या बन चुका था। इस मामले में ठोस कार्यवाही की आवश्यकता महसूस की जा रही थी। शहर की संकरी सड़कों पर चलने में आम नागरिक को ही परेशानी होती थी। सरकारी जमीन पर किये गये पक्के निर्माण हटाये जा रहे हैं। इसमें किसी को भी नहीं बख्शा जायेगा।
उक्ताशय की बात जिलाधिकारी प्रवीण सिंह ने समाचार एजेंसी ऑफ इंडिया से चर्चा करते हुए कही। जिलाधिकारी प्रवीण सिंह ने कहा कि जो भी कार्यवाही हो रही है वह जनता की सुविधा के लिये ही की जा रही है। इसमें जनता का जिस तरह का सहयोग मिल रहा है उसको देखते हुए प्रशासनिक अमले का मनोबल निश्चित तौर पर बढ़ ही रहा है।
उन्होंने कहा कि जिन स्थानों को अतिक्रमण से मुक्त करवाया जा चुका है वहाँ सरकारी दीवारों पर लोगों को जागरूक करने के लिये वाल पेंटिंग्स और स्लोगन आदि लिखाये जाने का काम आरंभ करवाया गया है। इसके साथ ही साथ सड़कों के चौड़ीकरण के लिये भी निर्देश जारी किये गये हैं।
उन्होंने कहा कि जहाँ – जहाँ अतिक्रमण हटाया जा चुका है वहाँ सड़क को किस जगह कितना चौड़ा किया जा सकता है इस बारे में भी संबंधितों को निर्देश जारी करते हुए प्रस्ताव तैयार करने को कहा गया है। इसके अलावा कहाँ – कहाँ फुटपाथ बनाया जा सकता है इस बारे में भी विचार किया जा रहा है।
जिलाधिकारी प्रवीण सिंह ने कहा कि सिवनी के नागरिकों के द्वारा जिस तरह धैर्य और संयम के साथ इस कार्यवाही में प्रशासन का साथ दिया गया है वह तारीफे काबिल है। उन्होंने कहा कि जो भी कार्यवाही हो रही है वह जनता की सुविधा के लिये ही की जा रही है। इस कार्यवाही में किसी तरह का भेदभाव नहीं किया जा रहा है।
उन्होंने कहा कि नागरिकों के द्वारा अपने – अपने क्षेत्रों में इस अमले को भेजे जाने की बात भी कही जा रही है, किन्तु प्रशासन के द्वारा इस कार्यवाही के लिये एक रोडमेप बनाया गया है, जिसके तहत कार्यवाही को अंज़ाम दिया जा रहा है। प्रथम चरण की कार्यवाही पूरी होने के बाद आगे जनता से मिलने वाले फीडबेक के हिसाब से पुनः कार्यवाही की जा सकती है।
उन्होंने कहा कि सिवनी के निवासियों के धैर्य, संयम और प्रशासन को सहयोग के बारे में उनके द्वारा जिस तरह की बातें सुन रखीं थीं, सिवनी के नागरिकों को वैसा ही पाया। सिवनी की जनता भी चाह रही थी कि अतिक्रमण की इस समस्या से निजात मिले। प्रशासन के सहयोग के लिये उनके द्वारा सिवनी के नागरिकों का आभार भी जताया गया है।
ज्ञातव्य है कि अतिक्रमण हटाये जाने का अभियान 26 नवंबर को गांधी भवन से आरंभ हुआ था। बस स्टैण्ड, नगर पालिका होते हुए छिंदवाड़ा चौक तक के अतिक्रमण को हटाये जाने के बाद अतिक्रमण हटाने वाले अमले ने नेहरू रोड का रूख किया। नेहरू रोड को अतिक्रमण मुक्त कराये जाने की माँग लंबे समय से की जा रही थी।
नेहरू रोड के बाद अमला शुक्रवारी, जैन मंदिर, छोटा मिशन होते हुए गणेश चौक पहुँचा, जहाँ से बरघाट रोड होते हुए डूण्डा सिवनी तक के अतिक्रमण इस अमले के द्वारा हटा दिये गये हैं। इस पूरी कार्यवाही में जनता यही कहती दिख रही है कि प्रशासन के द्वारा मुँहदेखा व्यवहार न किया जाकर जहाँ भी अतिक्रमण दिख रहा है वहाँ से अतिक्रमण हटाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *