यह है एक अंडरग्राउंड कस्बा

 

 

दक्षिणी आॅस्ट्रेलिया में एक छोटा सा गांव कूबर पेडी हैं। इस जगह की खासियत यह है की यहां के लोग अंडरग्राउंड घरों में रहते हैं। यहां ओपल की कई खदानें हैं। लोग यहाँ इन्ही ओपल की खाली खदानों में रहते है।

बाहर से देखने पर यह घर साधारण नजर आते है पर इनके अंदर जाने पर पता चलता है की यह किसी होटल से कम नहीं है। ओपल एक दूधिया रंग का कीमती स्टोन होता हैं। कूबर पेडी कहलाती है क्योकि यहाँ पर विशव की सबसे ज्यादा ओपल माइंस है।

अंदर जाने का रस्ता

यहाँ पर माइनिंग का काम 1915 में शुरू हुआ था। चुकी कूबर पेडी एक डेजर्ट ऐरिया हैं इसलिए यहाँ पर गर्मिओं में तापमान बहुत जयादा जबकि सर्दियों में बहूत कम हो जाता हैं इसके कारण यहाँ रहने वाले लोगों को बहुत तकलीफ सामना करना पड़ता था। इसका यह हल निकाला गया की लोगो को माइनिंग के बाद खाली बची खदानों में शिफ्ट कर दिया गया।

इन अंडरग्राउंड घरों में न तो गर्मियो मे एसी की जरूरत पड़ती है और न ही सर्दियों में हीटर कि। आज यहाँ पर ऐसे तकरीबन 1500 घर है जिसमे कूबर पेडी की सम्पूर्ण आबादी रहती है। इन्हें डग आउट्स कहा जाता है।

जमीन के नीचे ये घर पूरी तरह से फर्निश और सारी सुख सुविधाओं से लैस हैं। यहां कई हॉलीवुड फिल्मों की शूटिंग होती रहती है। पिच ब्लैक फिल्म की शूटिंग के बाद प्रोडक्शन ने फिल्म का स्पेसशिप यहीं छोड़ दिया था। अब यह पर्यटकों के लिए आकर्षण बन चुका है।

(साई फीचर्स)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *