10वीं की नाबालिग छात्रा ने दिया मृत बच्चे को जन्म

 

(ब्यूरो कार्यालय)

जुन्‍नारदेव (साई)। जिले के एक सरकारी कन्या शिक्षा परिसर में रहकर 10 वी कक्षा में पढ़ने वाली 15 वर्षीय आदिवासी नाबालिग के मृत बच्चे को जन्म देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है।

बीती गुरुवार की रात्रि 9.30 बजे सरकारी अस्पताल में एक नाबालिग ने मृत बालक को जन्म दिया। इस मामले के सामने आने के बाद एसडीओपी एसके सिंह, टीआई प्रतीक्षा मार्को सहित थाना स्टाफ अस्पताल जा पहुंचा। बालिका से मिले बयान के बाद बालिका के गृह ग्राम के एक 25 वर्षीय युवक पर आईपीसी की धारा 376 पास्को एक्ट के तहत कार्रवाई कर युवक को नवेगांव पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। मामले की जांच की जा रही है।

प्राप्त जानकारी अनुसार मामला आदिवासी कन्या शिक्षा परिसर का है। गुरुवार रात्रि को दसवीं में पढ़ने वाली 15 वर्षीय छात्रा को प्रसव पीड़ा के बाद सरकारी अस्पताल में रात्रि को भर्ती किया गया था। जहां नाबालिग ने एक मृत बालक को जन्म दिया।

अधीक्षिका की कार्यप्रणाली संदेह के घेरे में

इस मामले के बाद एक बार फिर कन्या शिक्षा परिसर की अधीक्षिका सुमन परते की कार्यप्रणाली संदेह के घेरे में आ गई है। बालिका को 9 माह का गर्भ होने की बात सामने आ रही है शिक्षा परिसर में पीड़ित छात्रा जुलाई से रह रही थी। जिस का हर माह विधिवत हेल्थ चेकअप भी होता है। उसके बाद भी अधीक्षिका को इस मामले की जानकारी नही होना अपने आप में कई सवाल खड़े करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *