एमपी में ‘छपाक’ हुई टैक्स फ्री, बढी रार

बीजेपी नेता बोले- पॉर्न फिल्म होती तब भी यही करती कांग्रेस सरकार

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। दीपिका पादुकोण की फिल्म छपाकको मध्य प्रदेश में टैक्स फ्री कर दिया है। कमलनाथ सरकार के इस फैसले पर नेता विपक्ष और बीजेपी के वरिष्ठ नेता गोपाल भार्गव ने निशाना साधा है। उन्होंने कहा है कि अगर यह पॉर्न फिल्म होती तब भी कांग्रेस प्रशासन उसे यह राहत दे ही देता। आपको बता दें कि यह फिल्म ऐसिड अटैक सर्वाइवर की कहानी है।

मेघना गुलजार द्वारा निर्देशित यह फिल्म तब चर्चा में आई थी, जब फिल्म अभिनेत्री दीपिका पादुकोण जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के छात्रों से मिलने पहुंची थीं। इस फिल्म को कांग्रेस शासित राज्यों मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में प्रदर्शित होने से पहले ही 9 जनवरी को टैक्स फ्री घोषित किया गया। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ट्विटर पर गुरुवार को इस फिल्म को प्रदेश में टैक्स फ्री करने की घोषणा करते हुए लिखा कि यह फिल्म समाज में ऐसिड अटैक सर्वाइवर महिलाओं को लेकर सकारात्मक संदेश देने और ऐसिड अटैक की पीड़ा के साथ-साथ आत्मविश्वास, संघर्ष, उम्मीद और जीने के जज़्बे की कहानी और ऐसे मामलों में समाज की सोच में बदलाव लाने के संदेश पर आधारित है। हालांकि, बीजेपी ने प्रदेश सरकार के इस फैसले की आलोचना की है।

टैक्स फ्री करने के मुद्दे पर बरसे बीजेपी नेता

नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने दीपिका पादुकोण की इस फिल्म को कर मुक्त घोषित करने के सवाल पर हरदा में गुरुवार को पत्रकारों से कहा कि फिल्म को प्रदर्शन से पहले ही कर मुक्त कर दिया गया है। यह फिल्म स्टंट, ऐक्शन या कुछ भी…यहां तक पॉर्न भी होती तब भी वह ऐसा कर सकते थे।

भार्गव की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कांग्रेस के मीडिया विभाग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने इस महिलाओं के प्रति अपमानजनक बताया और कहा कि एक तरफ मुख्यमंत्री कमलनाथ ने समाज में सकारात्मक संदेश देने के लिए फिल्म को टैक्स फ्री करने का निर्णय लिया है। वहीं, दूसरी ओर भार्गव का बयान हल्का और महिलाओं के प्रति अपमानजनक है। उन्होंने कहा कि यह गोपाल भार्गव की महिलाओं के प्रति सोच को दर्शाता है।

पहले भी विवादित बयान दे चुके हैं गोपाल भार्गव

आपको बता दें कि इससे पहले भी गोपाल भार्गव फिल्म छपाकऔर दीपिका पादुकोण को लेकर विवादित बयान दे चुके हैं। दीपिका के जेएनयू जाने पर गोपाल भार्गव ने कहा था कि हिरोइन को मुंबई में अपना डांस करना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि आखिर दीपिका को जेएनयू जाने की क्या जरूरत है। इस प्रकार के दर्जनों लोग हो गए हैं, जो ऐक्टिविस्ट, आर्टिस्ट खेलते रहते हैं।