सब्जी मण्डी की चहल पहल से आबाद हो सकता है गंज क्षेत्र!

 

 

समाचार पत्रों के जरिये खबर मिल रही है कि सिवनी के बुधवारी क्षेत्र में स्थित चिल्लहर सब्जी मण्डी को विस्थापित किये जाने की तैयारी की जा रही है। इस स्तंभ के माध्यम से मैं इसी संबंध में अपनी बात रखना चाहता हूँ।

दरअसल चिल्लहर सब्जी मण्डी का वर्तमान स्थान अत्यंत छोटा पड़ने लगा था जिसके कारण इसके आसपास के क्षेत्र जमकर प्रभावित हो रहे थे और यह स्थिति पिछले कई वर्षों से लगातार चली आ रही थी। इस मण्डी को शायद गंज क्षेत्र में ले जाया जा रहा है। यदि ऐसा होता है तो गंज क्षेत्र जो अलग-थलग सा पड़ा हुआ था वह चहल पहल के कारण आबाद हो सकता है।

थोक सब्जी मण्डी हटने के बाद भी यदि यातायात में अपेक्षाकृत सुधार परिलक्षित नहीं हो पाया है तो उसके पीछे चिल्लहर सब्जी मण्डी का न हटना ही एक प्रमुख कारण था। इस चिल्लहर सब्जी मण्डी में दिन भर ही खरीददारों की आवक जावक बनी रहती है और उनके लिये पार्किंग के लिये स्थान ही नहीं होता था। बावजूद इसके चिल्लहर सब्जी विक्रेताओं की तादाद बढ़ती ही जा रही है। चिल्लहर सब्जी मण्डी में जब स्थान रिक्त नहीं रह गया तो चिल्लहर सब्जी विक्रेताओं ने खटीकी मोहल्ला में स्थान तलाशा और वहाँ दुकानें लगाना आरंभ कर दीं। इसके चलते शहर की एक अंदरूनी सड़क भी यातायात की दृष्टि से अवरूद्ध हो गयी जो कि नहीं होना चाहिये था।

चिल्लहर सब्जी मण्डी को यदि यहाँ से विस्थापित कर दिया जाता है तो न सिर्फ जी.एन. रोड जैसे प्रमुख मार्ग बल्कि नेहरू रोड और इससे जुड़ने वाले अन्य मार्गों पर भी यातायात का दबाव कम होने की उम्मीद की जा सकती है। इस तरह शहर के एक प्रमुख क्षेत्र में ही यातायात पहले की अपेक्षा, सुगम होने की उम्मीद की जा सकती है। शहर को सुंदर और व्यवस्थित बनाना है तो दूरदृष्टि रखकर ही कदम उठाने होंगे। ऐसा नहीं हो सकता कि व्यवस्थाएं पुरानी ही रहें और शहर भी व्यवस्थित हो जायें।

संजय केने

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *