प्रदेश के विश्व्विद्यालयों में होगी गांधी चेयर की स्थापना

 

(ब्यूरो कार्यालय)

भोपाल (साई)। उच्च शिक्षा विभाग ने प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों को गांधी चेयर और गांधी स्तंभ की स्थापना करने के निर्देश दिए हैं। गांधी चेयर की स्थापना विश्वविद्यालय के राजनीति शास्त्र के तहत की जाएगी। इसके अध्यक्ष कुलपति होंगे। जबकि राजनीति शास्त्र विभाग के एचओडी इसके सचिव होंगे।

मुख्यमंत्री कमल नाथ महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के अवसर पर 30 जनवरी को भोपाल में राज्य स्तरीय समारोह में प्रदेश के विश्वविद्यालयों में स्थापित किए जा रहे गांधी चेयर और महाविद्यालयों में स्थापित गांधी स्तंभ का प्रतीकात्मक सामूहिक उद्घाटन करेंगे। उच्च शिक्षा विभाग ने प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों और सभी शासकीय, अशासकीय महाविद्यालयों को 26 जनवरी तक इस बारे में कार्रवाई पूर्ण करने के निर्देश दिए हैं।

विश्वविद्यालयों में राजनीतिक शास्त्र विभाग के अधीन गांधी चेयर की स्थापना की जाएगी। इसके लिए पांच सदस्यीय समिति का गठन किया जाएगा, जिसमें कुलपति अध्यक्ष एवं राजनीति शास्त्र विभाग के विभागाध्यक्ष सचिव के रूप में मनोनीत होंगे। इसके अतिरिक्त, गांधीवादी छवि के प्राध्यापक, विद्यार्थियों में से तीन सदस्य विवि के कुलपति द्वारा मनोनीत किए जाएंगे।

गांधी चेयर के तत्वावधान में महात्मा गांधी पर केंद्रित शोध करने वाले शोधार्थियों को अन्य छात्रवृत्ति के साथ पांच हजार रुपए प्रति माह के अनुसार 60 हजार रुपए प्रतिवर्ष अधिकतम तीन वर्ष के लिए प्रोत्साहन राशि के रूप में दिए जाएंगे।

प्रत्येक अकादमिक सत्र में गांधी जयंती के अवसर पर महात्मा गांधी पर केन्द्रित शोध स्मारिका का प्रकाशन किया जाएगा। स्मारिका में महात्मा गांधी पर केन्द्रित शोध पत्र, आलेख और विविध आयोजनों का प्रतिवेदन और छायाचित्र प्रकाशित होंगे। गांधी स्तंभ का निर्माण ऐसे शासकीय, अशासकीय महाविद्यालयों में किया जाएगा, जिनके पास स्वयं की भूमि और भवन उपलब्ध है।

अध्यक्ष, जनभागीदारी समिति की सहमति से स्तंभ निर्माण के लिए उपयुक्त स्थान का चयन किया जाएगा। निर्माण पर होने वाला व्यय शासकीय महाविद्यालयों में उपलब्ध जनभागीदारी मद से और अशासकीय महाविद्यालयों में स्वयं की निधि से किया जाएगा। महाविद्यालयों में स्थापित होने वाले गांधी स्तंभ का आकार चौकोर होगा। स्तंभ के सामने वाले भाग में गांधी स्तंभ का संकल्प अंकित किया जाएगा।

स्तंभ के पीछे वाले बाएं भाग में मप्र में महात्मा गांधी जी और दाएं भाग में महात्मा गांधी जी के प्रमुख आंदोलन अंकित किया जाएगा। गौरतलब है कि प्रदेश के सभी विश्वविद्यालयों में गांधी चेयर की स्थापना करने की घोषणा मुख्यमंत्री कमल नाथ ने 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के अवसर पर की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *