बीना में टीचर ने छात्राओं को पीटा

 

सीएम कमलनाथ ने दिए कार्रवाई के निर्देश

(ब्‍यूरो कार्यालय)
सागर (साई)। बीना में शासकीय कस्तूरबा गांधी मिडिल स्कूल भानगढ़ में 29 छात्राओं को टीचर द्वारा पीटने का मामला सामने आया है।

इस मामले में सीएम कमलनाथ ने ट्वीट कर पूरे मामले की जांच के आदेश दिए हैं, साथ ही जांच में दोषी पाए जाने पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं।

जानकारी के मुताबिक कस्तूरबा गांधी बालिका छात्रावास में रहने वाली कक्षा छठवीं की छात्राओं ने महिला शिक्षक पर पीटने का आरोप लगाया है। छात्राओं की शिकायत पर वार्डन ने पुलिस थाने में शिकायत कर छात्राओं की एमएलसी कराई है। इसके अलावा वार्डन ने महिला शिक्षक की शिकायत सहायक संचालक से कर कार्रवाई की मांग है।

वार्डन सीमा कौशल ने बताया कि माध्यमिक शाला भानगढ़ में छात्रावास की सभी 150 छात्राएं पढ़ती हैं। सोमवार को कक्षा छठवीं की छात्राओं से महिला शिक्षक ममता पटेल ने प्रश्न पूछे, जो छात्राएं सही जवाब नहीं दे पाईं उन्हें डंडे से पीटा गया। छात्रावास पहुंचकर छात्राओं ने यह बात वार्डन को बताई। मंगलवार को वार्ड ने छात्राओं को स्कूल भेजने की बजाय भानगढ़ पुलिस थाने में महिला शिक्षक के खिलाफ शिकायत की। हेडमास्टर से भी इसकी शिकायत की। शिकायत के दौरान कुछ छात्राओं ने हाथ के पंजों में दर्द होने की शिकायत की।

इस वह सभी छात्राओं को तीन ऑटो में भरकर सिविल अस्पताल पहुंची। इसकी सूचना मिलने पर सहायक संचालक जेड इक्का, बीआरसीसी डीसी चौधरी अस्पताल पहुंचे। वहीं ऑन ड्यूटी डॉक्टर ने छात्राओं की शिकायत पर पुलिस थाना मेमो भेज दिया। पुलिस ने छात्राओं के बयान लेकर एमएलसी कराई। इस दौरान छात्राओं ने आरोप लगाया कि मेडम सिर्फ छात्रावास में रहने वाली छात्राओं के साथ मारपीट की है। गांव से आने वाली छात्राओं को एक भी डंडा नहीं मारा।

शौचालय को लेकर है विवाद

मारपीट के संबंध में महिला शिक्षक ममता पटेल का कहना है कि माध्यमिक शाला में स्टाफ के लिए शौचालय नहीं है। महिला स्टाफ छात्रावास का शौचालय उपयोग करती हैं। वार्डन को इससे आपत्ति है। 18 जनवरी को महिला स्टाफ ने हेडमास्टर को आवेदन देकर शौचालय बनाने की मांग की थी। इसमें इस बात का जिक्र था कि शौचालय का उपयोग करने में उन्हें आपत्ति है। शिकायत कर उन्होंने बच्चों को गुमराह कर यह शिकायत कराई है। मारपीट का आरोप निराधार है।

One thought on “बीना में टीचर ने छात्राओं को पीटा

  1. Pingback: fun88

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *