मंत्रणा परिषद की सिफारिश पर तीन समितियां गठित, व्यवस्थाएं सुधारेंगी

 

(ब्‍यूरो कार्यालय)
भोपाल (साई)। मध्‍य प्रदेश के आदिवासी बहुल क्षेत्रों में खाद्यान्न् वितरण, खेल सुविधाओं में बढ़ोत्तरी और आदिवासियों के लिए संचालित विभिन्न् विभागों की योजनाओं के तहत विकास नीति निर्धारण के लिए आदिमजाति कल्याण विभाग ने तीन समितियों का गठन किया है। मुख्‍यमंत्री कमलनाथ ने पिछले दिनों विभिन्‍न समितियों के गठन की बात कही थी इसके बाद ही समितियों का गठन किया गया है।

समितियों में मिली छह-छह सदस्यों को जगह

सभी समितियों में छह-छह सदस्यों को शामिल किया गया है। यह समिति विभिन्न् स्तर पर निर्णय लेंगी। जिस पर आदिवासी मंत्रणा परिषद अंतिम मुहर लगाएगी।

आदिवासी मंत्रणा परिषद अब प्रत्‍येक मुद्दे पर करेगी चर्चा

आदिवासियों से संबंधित मुद्दों पर अभी तक आदिवासी मंत्रणा परिषद निर्णय लेती थी, लेकिन अब यह समिति प्रत्येक मुद्दे पर चर्चा करेगी और अपनी सिफारिश के साथ मंत्रणा परिषद को प्रस्ताव भेजेगी।

खाद्यान्‍न वितरण समिति में डॉ. हीरालाल अलावा को भी लिया

खाद्यान्न् वितरण समिति में विधायक अर्जुन सिंह, योगेन्द्र सिंह, हर्ष विजय गेहलोत, ब्रम्हा भलावी, सुमित्रा देवी कारूडेकर और डॉ. हीरालाल अलावा शामिल हैं।

विकास नीति तय करने के लिए बनाई समिति में झूमा सोलंकी शामिल

जबकि विभिन्न् विभागों द्वारा संचालित योजनाओं को लेकर विकास नीति तय करने के लिए बनाई समिति में विधायक फुंदेलाल सिंह मार्को, डॉ. अशोक मर्सकोले, विजयराघवेंद्र सिंह, भूपेंद्र सिंह मरावी, नारायण सिंह पट्टा और झूमा सोलंकी को शामिल किया गया है।

कलावती भूरिया खेल सुविधाएं बढ़ाने के लिए गठित समिति में

आदिवासियों के लिए खेल सुविधाएं बढ़ाने के लिए गठित समिति में विधायक संजय उइके, ग्यासीलाल रावत, चंद्रभागा किराड़े, कलावती भूरिया, वीरसिंह भूरिया और प्रताप ग्रेवाल शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *