क्षेत्र में फिर बरसी आसमानी आफत

 

बेमौसम बारिश से किसानों का जबर्दस्त नुकसान

(ब्यूरो कार्यालय)

सिवनी (साई)। दो तीन दिनों से मौसम में आया बदलाव किसानों के लिये चिंता का कारण बनता दिख रहा है। रविवार और सोमवार को एक बार फिर आसमान से आफत बरसती दिखी।

गत दो तीन दिन से खराब मौसम के चलते विकास खण्ड एवं नगर से लगे घोगरी, घुनई, देवगाँव और बरबसपुर के अलावा और भी ग्रामों पर बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि ने किसानों की तैयार गेहूँ की फसल को नुकसान पहुँचाया है उसका सिलसिला अभी भी जारी है।

सोमवार 24 फरवरी के दिन भी जनपद क्षेत्र के ग्राम पायली, बर्रा, गंगाढाना, रणधीर नगर और सिवनी से लगे हुए ग्राम परासिया में लगभग चार बजे के आसपास हुई ओलों के साथ हुई बारिश ने किसानों की उम्मीदो पर एक बार फिर पानी फेर दिया। इससे गेहूँ औऱ चना की फसल को काफी नुकसान हुआ, वहीं कुछ ग्रामों से खबर आयी है कि अच्छी खासी मात्रा में ओलावृष्टि हुई है, जिसमें आलू के आकार के ओले गिरे। वहीं आँधी तूफान के चलते गेहूँ की फसल जमीन में बिछ गयी।

विगत दो तीन दिनों से रुक – रुक कर बारिश की फिर शुरूआत हो गयी। राजस्व विभाग अपने स्तर से फसल नुकसानी का सर्वे कर रहा है लेकिन रोज हो रही ओलावृष्टि से सही आंकलन अभी निकल कर नहीं आ रहा है। किसानों का कहना है कि जिस प्रकार से पर्याप्त रूप से पानी की उपलब्धता रहने से इस वर्ष, पूर्व के वर्षों के मुकाबले अच्छी एवं उन्नत फसल की उम्मीद लग रही थी, जिस प्रकार से आने वाले दिनों में भी बारिश का अनुमान मौसम विभाग की ओर से लगाया जा रहा है उसको लेकर स्थानीय किसानों के मन में चिंताएं बनी र्हुइं हैं।