शहर की एक सड़क नालीनुमा गड्ढों में बदलने तैयार!

 

 

शहर विकास के लिये कोई मास्टर प्लान न बनाये जाने के कारण सिवनी शहर में विकास की रफ्तार दम तोड़ती सी प्रतीत हो रही है। इसी प्रकार की व्यवस्था से मुझे शिकायत है।

सिवनी के कटंगी नाका क्षेत्र का ही यदि विषय लिया जाये तो यहाँ मठ की दिशा से पुराने कटंगी नाका तक एक डामर रोड का निर्माण हाल ही में करवाया गया था। गौरतलब होगा कि इसके पूर्व यह रोड सीमेन्ट की बनायी गयी थी लेकिन नगर पालिका की जग जाहिर कमीशनबाजी की भेंट चढ़ी उक्त सीमेन्टेड रोड समय से पहले ही दम तोड़ चुकी थी।

इस प्रकार कहा जा सकता है कि नगर पालिका सिवनी की छत्रछाया में सीमेन्टेड रोड का प्रयोग असफल ही साबित हुआ। विकल्प के तौर पर एक बार फिर इस स्थान पर डामरीकृत सड़क का निर्माण किया गया जो काफी हद तक गुणवत्तायुक्त तो प्रतीत हो रही थी लेकिन अब इस सड़क में नालीनुमा गड्ढे उभरना तय हो गया प्रतीत हो रहा है।

दरअसल, नगर पालिका के द्वारा इन दिनों नयी पाइप लाइन से नल कनेक्शन दिये जा रहे हैं। इस कार्य के लिये रोड के एक तरफ जिनके द्वारा नल कनेक्शन लिया जा रहा है उनके लिये सड़क को ही क्षतिग्रस्त करके कनेक्शन दिये जा रहे हैं। इसके कारण इस मार्ग पर वर्तमान में ही कई स्थानों पर पतली नालीनुमा गड्ढे निर्मित हो गये हैं जिसके कारण वाहन चालकों को सपाट रोड पर अब गड्ढे मिलने लगे हैं।

गौरतलब होगा कि इस मार्ग पर निर्माण के समय ही कई स्थानों पर लोगों के द्वारा स्पीड ब्रेकर बनवा लिये गये जिसके कारण यातायात जमकर बाधित बना हुआ था। वर्तमान में नल कनेक्शन के लिये जो पतली नाली बनायी गयी है उसके, बारिश में बड़ा रूप धारण करना निश्चित ही है जिसके बाद यह सड़क कई स्थानों पर क्षतिग्रस्त हो जायेगी। जिला प्रशासन से अपेक्षा है कि इस संबंध में कोई उचित हल निकाला जाये ताकि डामर की रोड क्षतिग्रस्त न हो सके।

शिव दयाल बेलवंशी