समूह की बैंक सखी दीदी प्रदाय करेंगी बैंकिंग सेवाएं


कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में हुआ कार्यशाला का आयोजन
(ब्यूरो कार्यालय)
सिवनी (साई)। दीन दयाल अंत्योदय योजना राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के तत्वावधान में बुधवार को महिला स्व सहायता समूह की बैंक सखी दीदी की एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।
राजगढ़ में सफलता पूर्वक संचालित बैंक सखी समावेशन कार्यक्रम की तर्ज पर सिवनी जिले में भी ग्रामीण क्षेत्रों में बैंकिंग सेवाओं को सुलभ बनाने के लिये सिवनी के जिलाधीश प्रवीण सिंह के मार्गदर्शन में इस मुहिम को चलाया जा रहा है। सिवनी जिले के लिये प्रथम चरण में मध्यप्रदेश ग्रामीण बैंक की 26 शाखाओं को इस कार्यक्रम से जोड़ा जा रहा हैं।
कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में आयोजित इस कार्यशाला में सिवनी, लखनादौन, कुरई, बरघाट, केवलारी, छपारा, घंसौर एवं धनौरा की बैंक शाखाओं में कार्यरत 60 बैंक सखी महिलाओं ने हिस्सा लिया। इस अवसर पर राजगढ़ मेें बैंक सखी समावेशन कार्यक्रम में अग्रणी भूमिका में रहे जिला प्रबंधक संदीप सोनी ने बैंक सखियों को इस कार्यक्रम की बारीकियों से अवगत कराया।
बैंक सखियों को बैंक में बैठकर स्वयं सहायता समूह से संबंधित लेन देन में सहायता करना, खाता खुलवाने में सहयोग करना तथा बैंक व ग्राहक के बीच बैकिंग लेन देन में समन्वय का कार्य करने का अवसर मिलेगा। इन्हीं सखियों को बैंकों के द्वारा एनआरएलएम महिला बीसी पॉइंट भी दिया जायेगा जिससे वो ग्राम स्तर पर सभी तरह के ट्रांजेक्शन कर सकेंगी।
कार्यशाला में ग्रामीण बैंक के रीजनल मैनेजर श्री ढोगरे ने बताया कि इन चयनित बैंक सखी को आगे बढ़ाने हेतु ग्रामीण बैंक द्वारा एक फाइनेंस पैक तैयार किया जायेगा जिसमें उनको आवश्यक उपकरण लेपटॉप, स्कूटी आदि के लिये आसान ऋण उपलब्ध कराया जायेगा।
सभी बैंक सखियों को बैंक की शाखाओं में बैठनें के लिये बैठक व्यवस्था संबंधित बैंक शाखाओं द्वारा उपलब्ध करायी जायेगी। चयनित तीन बैंक सखियों को 08 मार्च को छिंदवाड़ा में आयोजित होने वाले अंर्तराष्ट्रीय महिला दिवस कार्यक्रम के दौरान मंच से लैपटॉप भी प्रदाय किये जायेंगे।
कार्यशाला में जिला कलेक्टर प्रवीण सिंह अढ़ायच, मुख्य कार्यपालन अधिकारी सुनील दुबे एवं श्रीमति आरती चोपड़ा जिला परियोजना प्रबंधक एनआरएलएम राजेन्द्र शुक्ला जिला प्रबंधक एनआरएलएम बैंक के जिला स्तरीय कॉर्डीनेटर भी उपस्थित हुए।