विवाह के दौरान जेवरात उड़ाने वाले चोरों को नहीं पकड़ पा रही पुलिस!


(सादिक खान)
सिवनी (साई)। लूघरवाड़ा स्थित एक निज़ि लॉन में 12 फरवरी को विवाह समारोह के दौरान जेवरात और नकदी पार करने वाले चोरों को पकड़ने में कोतवाली पुलिस नाकाम ही दिख रही है। पीड़ित पक्ष कोतवाली के चक्कर काट – काट कर अपनी चप्पलें घिस रहे हैं।
पीड़ित पक्ष के द्वारा पुलिस अधीक्षक कार्यालय जाकर इसकी लिखित शिकायत की है। पीड़ित पक्ष ने बताया कि 12 फरवरी को लूघरवाड़ा स्थित एक निज़ि लॉन में शादी समारोह में पीड़ित पक्ष की एक महिला द्वार पर खड़े होकर मेहमानों की आवभगत कर रहीं थीं। इसी दौरान उनके द्वारा मुँह में लगाने वाला एक काले रंग का मास्क दूल्हा – दुल्हन को देने के लिये लाये गये जेवरात के साथ बैग में रख दिया था।
इसी बीच शातिर चोरों के द्वारा यह बैग वहाँ से उड़ा दिया गया। इस बैग मे ंसोने की पाँच ग्राम की अंगूठी, 15 ग्राम की सोने की चैन, 200 ग्राम की चाँदी की पायल सहित अन्य गहने एवं उनका मोबाइल भी रखा हुआ था। मौके पर बैग गायब पाकर उनके द्वारा अपने परिचितों को इसकी जानकारी दी गयी।
वहाँ उपस्थित लोगों के द्वारा संदेह के आधार पर एक नाबालिग को पुलिस के हवाले कर दिया गया था। उसकी जेब से कथित तौर पर वही काला मास्क निकला था जो उक्त महिला के द्वारा बैग में रखा गया था। पीड़ित पक्ष का कहना है कि अगर पुलिस उस नाबालिग की जेब में मिले मास्क के संबंध में पूछताछ करती तो इस चोरी पर से पर्दा उठ सकता था। बताया जाता है कि इस घटना को कारित करने में चार से पाँच नाबालिग बच्चे शामिल हो सकते हैं।
वहीं, यह बात भी सामने आ रही है कि इस घटना के संदिग्ध के घर ताला लगा हुआ है और उसका पूरा परिवार गायब है। यहाँ यह उल्लेखनीय होगा कि एक बार फिर शहर में नये चेहरों की आमद दिख रही है। घरों से किसी न किसी बहाने पैसा माँगने के बहाने इनके द्वारा सूने घरों की रैकी भी की जा रही हो तो किसी को आश्चर्य नहीं होना चािहये।