आबादी में घुसे तेंदुए से मची दहशत

 

वन विभाग ने रेस्क्यू कर छोड़ा जंगल के अंदर

(ब्यूरो कार्यालय)

बरघाट (साई)। दक्षिण सिवनी सामान्य वन मण्डल के अंतर्गत बरघाट रेंज तखला जंगल टोला ग्राम में एक घर में अचानक तेंदुए ने दस्तक दी। तेंदुए ने घर में घुसकर मवेशी का शिकार किया। इसी बीच घर के मालिक ने दरवाजा बाहर से लगा दिया और देखते ही देखते जन सैलाब उमड़ पड़ा। लोगों ने वन विभाग और पुलिस को उक्त घटना की सूचना दी।

वन संरक्षक प्रीतम पाल टीटारे ने तत्काल टीम गठित कर सिवनी से टीम रवाना की, साथ ही डिप्टी डायरेक्टर श्री सिरसैया ने भी पेंच टाइगर रिज़र्व से डॉ.अखिलेश मिश्रा के साथ रेस्क्यू दल को रवाना किया। घटना स्थल पर आक्रोशित लोगों को शांत कर डॉ.अखिलेश मिश्रा ने परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए लोगों को मौके से दूर जाने के लिये समझाया।

इसके साथ ही पुलिस विभाग ने भी स्थिति को सामान्य बनाये रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी। तेंदुआ घर की पाट पर चढ़ गया था जिस कारण उसे देख पाना बहुत मुश्किल हो रहा था। टीम गठित कर एक टीम को छत पर सर्च के लिये भेजा गया और तेंदुए को जंगल की ओर जाने के लिये गाड़ियों से गाँव की तरफ जाने वाले रास्ते को बंद कर तेंदुए को जंगल की ओर जाने वाले रास्ते को खाली किया गया।

इसी दौरान डॉ.मिश्रा ने घर का दरवाजा खोला और छत पर मौजूद टीम को इशारा किया। टीम ने तेंदुए को सर्च कर पाटन से दरवाजे की और भेजने का प्रयास किया। तेंदुआ घर से निकल कर जंगल की ओर चला गया। हालांकि गाँव वाले लगातार तेंदुए को पकड़ने की बात करते रहे। वे वन विभाग और पुलिस पर आक्रोशित होते रहे।

होली के त्यौहार और लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए तेंदुए को जंगल की और भेजा गया। कार्यवाही में रेस्क्यू टीम एवं वनपाल शशिकांत सक्सेना, वन रक्षक अशोक इक्का, गुरु रजक, ऐश्वर्य एंटी पोतदार, रवि विश्कर्मा, मुख्य वनसंरक्षक उड़न दस्ता दल से अर्पित मिश्रा, सुगन इनवाती, विवेक मिश्रा आदि ने इस रेस्क्यू में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।